Top
Home > राष्ट्रीय > WHO की नीयत समझने की कोशिश कीजिए.......

WHO की नीयत समझने की कोशिश कीजिए.......

World Health Organization report on Corona एक ही वायरस अमेरिका में इतनी मौतों का कारण बनता है लेकिन रूस में उससे सिर्फ साढ़े चार हजार मौतें ही होती है?

 Shiv Kumar Mishra |  31 May 2020 3:07 PM GMT  |  दिल्ली

WHO की नीयत समझने की कोशिश कीजिए.......

'ICMR चाहता है कि हॉस्पिटल में हुई साधारण मौतों को कोरोना से हुई मौत बताया जाए'.यह जब पिछली पोस्ट पर लिखा तो लोग यकीन नही कर पा रहे हैं एक मित्र ने यह स्क्रीनशॉट उपलब्ध कराया है वे बता रहे हैं कि ICMR द्वारा देश भर के हॉस्पिटल के डॉक्टरों को जो 10 मई को जो दिशानिर्देश दिए गए थे वो ये ही है एक कमेन्ट में उन्होंने लिखा है.

'अब आप खुद देखिए कि क्या कोई व्यक्ति जो अस्पताल पहुंच जाए किसी भी बिमारी के चलते, क्या वो COVID19 करार दिए जाने से बच पाएगा ?? क्या ऐसा संभव है ?? मतलब मरीज़ कुछ भी करले,, डाक्टर निगेटिव को भी सस्पेक्ट COVID बता सकते हैं.

ये दिशानिर्देश 10 मई को जारी किए गए थे,, और उसके बाद से अचानक मौतों का आंकड़ा बढ़ना शुरू हो गया.


भारत मे ठीक वही खेल खेले जाने वाला है जो अमेरिका में खेला जा चुका है ये खेल है हॉस्पिटल में हुई साधारण मौतों को कोरोना से हुई मौत बताने का खेल, अमेरिका में अब तक कोरोना से हुई मौत 1 लाख 5 हजार 557 दर्ज की गयी है ओर टेस्ट 1 करोड़ 72 लाख हुए हैं जबकि रशिया में टेस्ट 1 करोड़ 3 लाख हुए हैं लेकिन मौतें मात्र 4 हजार 555 दर्ज की गयी है.

अब कोई समझदार आदमी होता तो यह जरूर पूछता कि ऐसा कैसे संभव है कि एक ही वायरस अमेरिका में इतनी मौतों का कारण बनता है लेकिन रूस में उससे सिर्फ साढ़े चार हजार मौतें ही होती है?

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it