Home > राष्ट्रीय > उन्नाव पीड़िता: ट्रक ने सीधे आकर मारी थी टक्कर, आरक्षण पर क्या बोले मोहन भागवत, शरद पवार ने किसे कहा कौवा?

उन्नाव पीड़िता: ट्रक ने सीधे आकर मारी थी टक्कर, आरक्षण पर क्या बोले मोहन भागवत, शरद पवार ने किसे कहा कौवा?

 Special Coverage News |  19 Aug 2019 2:54 AM GMT  |  उन्नाव

उन्नाव पीड़िता: ट्रक ने सीधे आकर मारी थी टक्कर, आरक्षण पर क्या बोले मोहन भागवत, शरद पवार ने किसे कहा कौवा?

उन्नाव के विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता ने बताया है कि उनकी कार को टक्कर मारने वाला ट्रक पहले से ही अजीब ढंग से चल रहा था.

द टाइम्स ऑफ़ इंडिया के मुताबिक़, दिल्ली के एम्स अस्पताल में भर्ती पीड़िता ने यह बात अपने एक रिश्तेदार को बताई है. अपने वकील और दो रिश्तेदारों के साथ रायबरेली से उन्नाव लौट रही पीड़िता की कार 28 जुलाई को एक ट्रक ने टक्कर मार दी थी.

अभी सीबीआई जांच कर रही है कि यह हादसा था या फिर जानबूझकर ट्रक से कार को टक्कर मारी गई. मगर अख़बार के मुताबिक पीड़िता ने कहा है कि उसने 'ट्रक को सीधे अपनी ओर आते और टक्कर मारते देखा था.'

रिश्तेदार का कहना है कि पीड़िता ने यह भी बताया कि कार चला रहे वकील ने रिवर्स गियर में डालकर ट्रक के रास्ते से हटने की कोशिश भी की थी. वकील अभी बेहोश है और उनका भी एम्स में इलाज चल रहा है.

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने एक बार फिर आरक्षण की बात छेड़ी है. उन्होंने कहा है कि आरक्षण को लेकर अच्छे माहौल में चर्चा होनी चाहिए.

दैनिक जागरण के मुताबिक़, दिल्ली में रविवार को उन्होंने कहा, "जो आरक्षण के पक्ष में हैं और जो इसके ख़िलाफ़ हैं, उन लोगों के बीच इस मामले पर सौहार्दपूर्ण माहौल में बातचीत होनी चाहिए.

संघ प्रमुख ने यह भी कहा कि उन्होंने पहले भी आरक्षण पर बात की थी लेकिन इससे काफ़ी हंगामा मचा था और पूरी चर्चा वास्तविक मुद्दे से भटक गई थी.

दरअसल बिहार विधानसभा चुनाव से पहले भी मोहन भागवत ने आरक्षण की समीक्षा की ज़रूरत बताई थी जिसकी राजनीतिक दलों और संगठनों ने आलोचना की थी.

पाकिस्तान: कारोबारी मांग रहे भारतीय सामान बेचने की अनुमति

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक़ पाकिस्तान के कारोबारियों ने अपनी सरकार से भारत से आयात की गई चीज़ों को बेचने की इजाज़त मांगी है.

इन कारोबारियों का कहना है कि प्रतिबंध लगने से पहले ही जो चीज़ें पाकिस्तानी हवाई अड्डों या बंदरगाहों पर पहुंची हैं, उन्हें स्थानीय बाज़ारों में उतरने देना चाहिए.

भारत सरकार की ओर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को निष्प्रभावी करने से नाराज़ पाकिस्तान ने भारत के साथ कारोबारी संबंध निलंबित कर दिए थे.

कमलनाथ के भांजे पर केस

सीबीआई ने 354 करोड़ रुपए के बैंक घोटाले मामले में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के भांजे रतुल पुरी और मोज़रबेयर के तत्कालीन कार्यकारी निदेशक पर मुक़दमा दर्ज किया है.

द हिंदू के मुताबिक़, केंद्रीय जांच एजेंसी ने पुरी के अलावा कंपनी और चार अन्य निदेशकों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया है.

सीबीआई की ओर से जारी बयान के अनुसार, कंपनी के कार्यालयों और निदेशकों के आवास समेत छह जगहों पर छापेमारी की गई.

जिन लोगों के ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया है, उनमें मोज़रबेयर कंपनी, प्रबंध निदेशक दीपक पुरी और निदेशक - नीता पुरी, संजय जैन और विनीत शर्मा शामिल हैं.

पार्टी छोड़ने वालों को शरद पवार ने कहा 'कौआ'

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने पार्टी छोड़कर अन्य पार्टियों में शामिल हुए नेताओं को 'कौआ' कहा है.

हिंदुस्तान टाइम्स के अनुसार, रविवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी महाराष्ट्र में होने जा रहे विधानसभा चुनावों में नए चेहरे उतारने पर विचार कर रही है.

पवार ने कहा, 'अब हमें कौओं के बारे में चिंता करने नहीं करनी चाहिए. इसके बजाय चुनाव से पहले पार्टी के कार्यकर्ताओं पर ध्यान देना चाहिए.'

पिछले दिनों एनसीपी के कई विधायक और नेता बीजेपी और शिवसेना में शामिल हो गए थे.

हिमाचल में बारिश से 22 की मौत

देश के पूर्वी और दक्षिणी हिस्से के बाद अब उत्तर भारत में बारिश के कारण नुक़सान देखने को मिल रहा है.

उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में लगातार हुई बारिश के कारण भूस्खलन की घटनाओं से जान-माल का काफ़ी नुक़सान हुआ है.

दैनिक जागरण लिखता है कि बारिश ने इस बार हिमाचल में 70 सालों का रिकॉर्ड तोड़ दिया है. इस कारण राज्य में 22 लोगों की मौत हुई है जबकि दर्जनों घायल हुए हैं. सात लोग लापता बताए जा रहे हैं.

उत्तराखंड में बारिश के कारण नौ लोगों की जान गई है.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top