Home > अदरक जूस का सेवन क्‍यों है फायदेमंद, जानिए इसके अनमोल गुण

अदरक जूस का सेवन क्‍यों है फायदेमंद, जानिए इसके अनमोल गुण

 Special Coverage News |  2016-06-24 13:41:22.0  |  New Delhi

अदरक जूस का सेवन क्‍यों है फायदेमंद, जानिए इसके अनमोल गुण

नई दिल्‍ली: इस बात से सभी वाकिफ हैं कि अदरक का सेवन सेहत के लिए काफी फायदेमंद है। अदरक में स्वस्थ रखने की जबरदस्त शक्ति होती है। अदरक में बहुत सारे विटामिन्स के साथ-साथ कैल्शियल, आयरन, कॉपर, मैग्नीशियम जिंक आदि मिनरल भरपूर मात्रा में पाया जाता है जिनकी शरीर को सुचारु रूप से चलाने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका होती है।

वैसे भारतीय ज्यादातर खान-पान में मसालों के तौर पर अदरक का प्रयोग करते है। अदरक मॉनसून सीजन में बीमारियों से भी बचाती है। सीने में जकड़न या सांस लेने में भारीपन महसूस होने पर
अदरक का रस
शहद के साथ सेवन करने से आराम मिलता है। यदि आप इसे सीधे तौर पर खाना पसंद नहीं करते हैं तो इसका जूस के तौर पर भी सेवन किया जा सकता है।

अदरक जूस से फायदे बहुत है और इसे विभिन्न तरीकों से उपयोग में लाया जा सकता है।

पाचन के लिए बेहतर है: अदरक का जूस विभिन्‍न तरह के पाचन संबंधी समस्‍याओं में आराम दिलाता है। यह पाचन प्रकिया में एक सक्रिय तत्‍व के तौर पर काम करता है।

मधुमेह नियंत्रण करने में: एक ग्‍लास अदरक के जूस का सेवन खून में ग्‍लूकोज के स्‍तर को कम करता है जोकि मधुमेह पीडि़तों के लिए फायदेमंद है। एंटी डायबिटीक गुण होने के चलते इसके सेवन की सलाह दी जाती है।

अदकर कैंसर रोकथाम में मददगार है: अदकर जानलेवा बीमारी कैंसर की रोकथाम में काफी सहायक साबित हुआ है। इसका सेवन कैंसर उत्‍पन्‍न करने वाले सेल्‍स को खत्‍म करता है।

मुंहासे दूर करने में: यदि आप मुंहासों से छुटकारा पाना चाहते हैं तो अदरक के जूस का सेवन जरूर करें। यह एक ऐसे तत्‍व के रूप में काम करता है जिससे मुंहासे या पिंपल्‍स को दूर करने में मदद मिलती है।

एलर्जी व संक्रमण से लडऩे में: अदरक में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स इसे एलर्जी व संक्रमण से लडऩे में फायदेमंद बनाते हैं। ऐसे में अदरक का नियमित रूप से सेवन श्वास संबंधी रोगों के मरीजों की सेहत के लिए फायदेमंद है। अदरक के जूस में मेथी दाना और शहद मिलाकर सेवन करने से दमा के मरीजों को काफी राहत मिलती है।

अदकर का उपयोग ठंड से बचाव में: एंटी वायरल और एंटी फंगल गुण होने के चलते अदरक ठंड, फ्लू आदि से बचाव करता है।

कॉलेस्‍ट्रॉल को कम करने में: अदरक का सेवन कॉलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को भी कम करता है। रक्‍त वाहिका में ब्‍लॉकेज को दूर करने में भी मदद करता है, जिससे हृदय रोगियों को मदद मिलती है।

माइग्रेन के दर्द को कम करने में:
माइग्रेन के दर्द के दौरान सिर पर अदरक का पेस्ट लगाने से राहत मिलती है। यह लेप सिर के हिस्से में रक्त संचार तेज करता है जिससे दर्द में तुरंत आराम मिलता है।

इतना ही नहीं, नहाने के पाने में इसका रस मिलाकर नहाने से जोड़ों के दर्द की दिक्कत भी दूर होती है।

ध्यान देने योग्य बातें
दो साल से कम उम्र के बच्चों को अदरक नहीं दी जानी चाहिए। गर्भवती स्त्रियों को 1 ग्राम रोजाना से अधिक नहीं लेना चाहिए। आम तौर पर, वयस्कों को एक दिन में 4 ग्राम से ज्यादा अदरक नहीं लेनी चाहिए। इसमें खाना पकाने में इस्तेमाल किया जाने वाला अदरक शामिल है।

आप अदरक की चाय बनाने के लिए सूखे या ताजे अदरक की जड़ का इस्तेमाल कर सकते हैं और उसे रोजाना दो से तीन बार पी सकते हैं। किसी विशेष समस्या के लिए अदरक की खुराक की जानकारी और संभावित दुष्प्रभावों के लिए हमेशा डॉक्टर से संपर्क करें।

Tags:    
Share it
Top