Home > जानिए टी.बी.का घरेलू असरदार उपचार

जानिए टी.बी.का घरेलू असरदार उपचार

 Special Coverage News |  2016-07-31 14:35:45.0  |  New Delhi

जानिए टी.बी.का घरेलू असरदार उपचार

टी.बी.अर्थात क्षय रोग का साधारण और कारगर नुस्खा |

टी. बी. यानी क्षय रोग एक संक्रामक रोग है | जो जीवाणुओं की वजह से होता है | यह बीमारी mycobacterium tuberculosis नामक जीवाणु से होती है | यह जीवाणु ज्यादातर हमारे फेफड़ों पर असर करते है | जब सांस के जरिये यह जीवाणु हमारे शरीर में जाता है तब टी. बी. होने का ख़तरा होता है |

अगर आप इस बीमारी से ग्रसित है तो ये नुस्खा आपके लिए अमृत सामान है आईये जानते है इसकी विधि |

लहसुन का विधिपूर्वक सेवन करने वालों को टी. बी. नहीं होती है | इस प्रकार के रोग को दूर करने में लहसुन अमृत के समान होता है | लहसुन अत्यंत प्रबल कीटाणुनाशक है | और एंटीबायोटिक औषधियों का अच्छा विकल्प है | इसके प्रयोग से टी. बी.के कीटाणु नष्ट हो जाते है |

प्रयोग विधि

प्रयोग करने से पहले लहसुन को छील लीजिये | इसकी कली पर बहुत बारीक झिल्ली लिपटी रहती है | ऐसे भी अलग कर देना चाहिए | एक कली के तीन चार टुकड़े कर लें | और दोनों समय भोजन के बाद एक घंटे बाद लहसुन की दो कलियाँ चबा कर ऊपर से पानी पिए अथवा एक कली के चार टुकड़े कर एक एक मुनक्का में दो दो टुकड़े रखकर चबा जाएँ |

विशेष _लहसुन को पीसकर गुड़ मिलाकर खाने से फेंफड़ो के ऐसे जख्म भी भर जातें है ,जिन्हें लाइलाज कहा जाता है |

Tags:    
Share it
Top