Home > भारत में जीका वायरस ने दी दस्तक, अहमदाबाद में 3 मरीजों की पुष्टि

भारत में जीका वायरस ने दी दस्तक, अहमदाबाद में 3 मरीजों की पुष्टि

Zika Virus in India

 Kamlesh Kapar |  2017-05-27 13:44:48.0  |  अहमदाबाद

भारत में जीका वायरस ने दी दस्तक, अहमदाबाद में 3 मरीजों की पुष्टि

अहमदाबाद : ब्राजील समेत कई दक्षिण अमेरिकी देशों में दहशत मचाने के बाद जीका वायरस ने भारत में भी दस्तक दे दी है। WHO ने गुजरात में 3 लोगों के जीका वायरस से पीड़ित होने की पुष्टि की है। भारत में इस वायरस के पाए जाने का ये पहला मामला है। तीनों ही मरीज अहमदाबाद के बापूनगर इलाके के रहने वाले हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन की वेबसाइट पर छपी रिपोर्ट में बताया गया है कि अहमदाबाद के बीज.जे. मेडिकल कॉलेज (BJMC) ने 10 से 16 फरवरी 1016 के बीच 93 ब्लड सैंपल इकट्ठे किए थे। इनमें से एक 64 साल के बुजुर्ग में जीका वाइरस पाए गए।

इसी तरह एक 34 साल की महिला के ब्लड सैंपल में भी जीका वाइरस पाने की पुष्टि हुई है। महिला ने पिछले साल नवंबर में BJMC में ही एक स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया था। उस समय लिए गए उसके ब्लड सैंपल में जीका वाइरस पाए जाने की पुष्टि हुई है। 22 साल की एक गर्भवती महिला भी जीका वाइरस से पीड़ित है। महिला का इसी साल जनवरी में ब्लड सैंपल लिया गया था। उस समय महिला को 37 हफ्ते का गर्भ था।

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने जीका वाइरस से बचाव के सलाह भी दिए हैं। उसने कहा है कि मच्छरों के रोकथाम और उन पर नियंत्रण के जरिए इस वाइरस को फैलने से रोका जा सकता है। WHO ने मच्छरों को मारने वाली दवा के छिड़काव की सलाह दी है। उसने गर्भवती महिलाओं को विशेष सावधानी बरतने की सलाह दी है। लोगों को पूरे शरीर के ढकने वाले और हल्के रंग के कपड़े पहनने की सलाह दी गई है।

जीका वाइरस के पीड़ितों में तेज बुखार, जोड़ों में दर्द, शरीर पर लाल चकत्ते, थकान, सिर दर्द और आंखों के लाल होने के लक्षण दिखते हैं। गर्भवती महिलाओं के इसके चपेट में आने की आशंका ज्यादा होती है। इसकी वजह से प्रभावित बच्चे का जन्म छोटे आकार और अविकसित दिमाग के साथ होता है। यह वाइरस तंत्रिका तंत्र को प्रभावित कर देता है जिससे पीड़ित लकवे का शिकार भी हो सकता है।

Tags:    
Share it
Top