Home > पाकिस्तान के खिलाफ अमेरिका में उठी मांग- बंद की जाए सैन्य सहायता, जाने क्या है मामला

पाकिस्तान के खिलाफ अमेरिका में उठी मांग- बंद की जाए सैन्य सहायता, जाने क्या है मामला

american senaters told not to financial help to pakistan on the issue of terrorism

 Kamlesh Kapar |  2017-06-17 13:07:35.0  |  अमेरिका

पाकिस्तान के खिलाफ अमेरिका में उठी मांग- बंद की जाए सैन्य सहायता, जाने क्या है मामला

अमेरिका: अमेरिकी संसद कांग्रेस की आतंकवाद पर विदेशी मामलों की समिति के समक्ष सुनवाई में डाना रोहरबेचर और टेड पो ने पाकिस्तान पर आतंकवाद के समर्थन का आरोप लगाया। सांसदों ने आतंकवाद का समर्थन करने का आरोप लगाते हुए पाकिस्तान को दी जाने वाली सैन्य सहायता में ट्रंप प्रशासन से कटौती करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि इस्लामाबाद के लिए अमेरिकी हथियारों को हासिल करना मुश्किल कर देना चाहिए।

उन्होंने कहा, हम जानते हैं कि उन्होंने अब क्या किया है। वह अभी भी डाक्टर अफरीदी को तहखाने में रखे हुए हैं। रोहराबाचेर ने कहा, हमें हमारी सहायता और हथियार प्रणाली मिस्र जैसे देशों को मुहैया करानी चाहिए जो पश्चिमी सहायता सहित सभी सभ्यताओं के लिए मौजूद खतरे के खिलाफ लड़ रहा है और हमें पाकिस्तान जैसे देशों के लिए अमेरिकी हथियारों को हासिल करना और भी कठिन बना देना चाहिए।

हाउस फॉरेन अफेयर्स सबकमेटी ऑन टेररिज्म, नॉन-प्रोलिफरेशन एंड ट्रेड अध्यक्ष सांसद टेड पो ने कहा कि अमेरिका को पाकिस्तान के साथ कुछ समस्याए हैं, पाकिस्तान अमेरिका का वफादार है या सहायता पाने के मुद्दे पर वह खेल कर रहा है। पाकिस्तान को दिये गए एफ-16 विमानों से वह अमेरिकी लोगों पर हमला नहीं करेगा, इसकी क्या गारंटी है ? जैसे ही उसे अमेरिकी सहायता बंद होगी, वह चीन की तरफ मुड़ जाएगा। उसके पास परमाणु हथियार हैं। हम सहायता दे रहे हैं। इसलिए वह चीन से दूरी बनाए हुए है।

Tags:    
Share it
Top