Home > पीएम मोदी का बड़ा एलान, शादी के बाद महिलाओं को पासपोर्ट पर नाम बदलना जरूरी नहीं

पीएम मोदी का बड़ा एलान, शादी के बाद महिलाओं को पासपोर्ट पर नाम बदलना जरूरी नहीं

 Arun Mishra |  2017-04-13 17:15:00.0  |  New Delhi

पीएम मोदी का बड़ा एलान, शादी के बाद महिलाओं को पासपोर्ट पर नाम बदलना जरूरी नहीं

नई दिल्ली : महिलाओं को अब शादी के बाद पासपोर्ट में अपना नाम बदलने की जरूरत नहीं पड़ेगी। वो अपने माता-पिता के नाम के साथ भी पासपोर्ट बनवा सकती हैं। ये एलान आज प्रधानमंत्री मोदी ने किया। प्रधानमंत्री आईएमसी महिला विंग के 50 साल पूरे होने के मौके पर बोल रहे थे।

पीएम मोदी ने कहा कि महिलाओं को पासपोर्ट के लिए शादी या तलाक के दस्तावेज भी नहीं दिखाने होंगे। उन्होंने कहा कि वह चाहते हैं कि महिलाएं विकास योजनाओं के केंद्र में रहें। उन्होंने कहा कि मुद्रा और उज्ज्वला सहित विभिन्न योजनाओं के जरिए उनकी सरकार महिलाओं को सशक्त करने के लिए कई तरह के कदम उठा रही है।

अपनी सरकार की ओर से शुरू की गई विभिन्न महिला केंद्रित योजनाओं का हवाला देते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि महिलाओं के लिए मातृत्व अवकाश 12 हफ्तों से बढ़ाकर 26 हफ्तों का कर दिया गया है जबकि एक अन्य योजना में अस्पतालों में बच्चे को जन्म देने वाली महिलाओं को 6,000 रुपए देने का प्रावधान है।

उज्ज्वला योजना के तहत पिछले साल शुरू की गई नि:शुल्क रसोई गैस वितरण परियोजना पर मोदी ने कहा कि सरकार ने अगले दो साल में बीपीएल परिवारों के पांच करोड़ लोगों को इस दायरे में लाने का लक्ष्य तय किया है। इसकी शुरुआत के एक साल के भीतर योजना से दो करोड़ महिलाओं को लाभ मिला है।

Tags:    
Share it
Top