Top
Begin typing your search...

तारा शाहदेव केस : 'धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे'

रकीबुल और उसकी मां सिंदूर लगाने पर हाथ-पैर तोड़ने की धमकी देते थे..?

तारा शाहदेव केस : धर्म बदल लो नहीं तो बिस्‍तर यही रहेगा, मर्द बदलते रहेंगे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
नई दिल्ली : नेशनल शूटर तारा शाहदेव के पति रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हसन पर पत्‍नी को प्रताड़ित करने के मामले में जांच कर रही सीबीआई ने चार्जशीट दाखिल कर दी है। चार्जशीट में कई सनसनीखेज बातें सामने आई है। सीबीआई के मुताबिक रकीबुल और उसकी मां तारा शाहदेव से जबरन इस्‍लाम धर्म कबूल करवाने पर अड़े थे। तारा की सास ने तो उससे साफ कह दिया था कि अगर इस्‍लाम कबूल नहीं किया तो तुम्‍हारा बिस्‍तर वहीं रहेगा लेकिन मर्द बदलते रहेंगे।

जानकारी के मुताबिक सीबीआई ने केस की चार्जशीट स्‍पेशल जज फहीम किरमानी की अदालत में दाखिल किया। इस चार्जशीट में कई चौकाने वाली बातें सामने आईं। तारा ने सीबीआई को पूछताछ में बताया कि उसके सिंदूर लगाने पर भी पाबंदी थी। रकीबुल और उसकी मां सिंदूर लगाने पर हाथ-पैर तोड़ने की धमकी देते थे।

अधिवक्ता अविनाश कुमार पांडेय ने बताया कि चार्जशीट में तारा शाहदेव के कथित पति रंजीत सिंह कोहली उर्फ रकीबुल हसन, उसकी मां कौशल रानी व हाईकोर्ट के पूर्व रजिस्ट्रार मुश्ताक अहमद के नाम शामिल हैं। अब अदालत तीनों के खिलाफ संज्ञान लेकर आरोपियों को समन जारी करेगी। तारा शाहदेव प्रताड़ना व धर्म परिवर्तन को लेकर हाई कोर्ट के आदेश के बाद दिल्ली सीबीआई को जांच का जिम्मा सौंपा गया था। मुख्य आरोपी रकीबुल हसन 27 अगस्त, 2014 से जेल में है, जबकि उसकी मां जमानत पर बाहर है।

यह है मामला
बता दें कि तारा की 7 जुलाई 2014 को रकीबुल से शादी हुई थी। तारा से शादी करने के लिए रकीबुल ने उसे धोखा देकर खुद को हिंदू बताया और खुद को रंजीत कोहली बताता रहा। शादी के बाद उसकी असलीयत सामने आई और मां-बेटे ने मिलकर इस पर जुल्म करना शुरू कर दिए।
Arun Mishra
Next Story
Share it