Top
Begin typing your search...

बाबरी केस LIVE : आडवाणी, जोशी और उमा समेत 13 लोगों पर आज तय होंगे आरोप, थोड़ी देर में सुनवाई शुरू!

Babri Masjid demolition case: BJP's L K Advani, Manohar Joshi, Uma Bharti to appear before special CBI court today

बाबरी केस LIVE : आडवाणी, जोशी और उमा समेत 13 लोगों पर आज तय होंगे आरोप, थोड़ी देर में सुनवाई शुरू!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
लखनऊ : बाबरी विध्वंस मामले में आज बीजेपी के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती समेत 12 लोगों की कोर्ट में पेशी होनी है. आज इन सभी नेताओं पर साल 1992 के बाबरी विध्वंस मामले में आरोप तय किए जाएंगे.

पिछले आदेश में कोर्ट ने इन नेताओं को आज हर हाल में अदालत में पेश होने का निर्देश दिया था. खबर है कि आडवाणी और जोशी लखनऊ पहुंच चुके हैं. सीबीआई के विशेष न्यायाधीश एस के यादव ने विनय कटियार, विहिप नेता विष्णु हरि डालमिया और साध्वी ऋतंभरा से भी कोर्ट में व्यक्तिगत रूप से पेश होने को कहा है.

वहीं, कोर्ट में पेश होने से पहले पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी व पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. मुरली मनोहर जोशी से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मुलाकात करेंगे। इन नेताओं के बीच मुलाकात लखनऊ के वीवीआइपी गेस्ट हाउस में मुलाकात हुई।

इन पर चलेगा केस
लालकृष्ण आडवाणी. मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, विनय कटियार, साध्वी ऋतंभरा, विष्णु हरि डालमिया, रामविलास वेदांती, महंत नृत्य गोपाल दास, चंपत राय बंसल और बैकुंठलाल शर्मा प्रेम पर केस चलेगा.बता दें कि यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मौजूदा वक्त में राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह पर केस नहीं चलेगा. पद पर होने की वजह से उन्हें केस से छूट दी गई है. पद से हटने के बाद उन पर केस चल सकता है.

कोर्ट का सम्मान करती हूं इसलिए पेश होने जा रही हूं : उमा भारती
इस मामले को लेकर केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने आज कहा कि इसमें कोई साजिश नहीं थी. ये एक खुला आंदोलन था. कोर्ट का सम्मान करती हूं इसलिए पेश होने जा रही हूं.

लाखों लोग मौजूद थे तो फिर साजिश कैसी : विनय कटियार
इसे लेकर बीजेपी नेता विनय कटियार ने कहा कि हाई कोर्ट ने भी कह दिया है कि वह रामलला का स्थान है फिर केस किस बात का. उस वक़्त लाखों लोग वहां मौजूद थे तो फिर साज़िश कैसी? विनय कटियार ने कहा, 'मुलायम सिंह ने माना था कि गलती हुई. 16 लोग मारे गए थे, उनके खिलाफ भी मामला चलना चाहिए. जितनी भी साजिश कर ली जाए, कोई भी साजिश काम नहीं आने वाली.'

कोर्ट पर भरोसा : साध्वी ऋतंभरा
साध्वी ऋतंभरा ने कहा, 'मुझे उम्मीद है कोर्ट जल्द से जल्द इस मामले में निर्णय देगा. आरोप सीबीआई ने लगाए हैं. कोर्ट में तथ्य उनको पेश करने हैं. हमें कोर्ट पर भरोसा है.

सुप्रीम कोर्ट ने 19 अप्रैल को निर्देश दिया था कि आडवाणी (89), जोशी (83) और उमा (58) के अलावा बाकी सभी आरोपियों पर बाबरी ढांचा ढहाए जाने के मामले में आपराधिक षड्यंत्र का मुकदमा चलेगा. कोर्ट ने मामले की सुनवाई रोजाना कराने और दो साल में सुनवाई समाप्त करने का निर्देश दिया है. उच्चतम न्यायालय ने कहा था कि बीजेपी नेता कल्याण सिंह जब तक राज्यपाल के पद पर हैं, उनके खिलाफ मुकदमा नहीं चल सकता. राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह जब उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री थे, उसी समय ढांचा ढहाया गया था.
Image may contain: 3 people, people sitting and close-up

मंत्री मुकुट बिहारी कोर्ट जाते हुए

बाबरी विध्वंस को लेकर दो मामले दर्ज किए गए थे. एक बाबरी मस्जिद को गिराने वाले आरोप कारसेवकों पर चल रहा था और दूसरा मामला लोगों को उकसाने और साजिश रचने के लिए दर्ज किया गया, जिसमें आडवाणी समेत 13 लोग के नाम शामिल थे. साल 2001 में सीबीआई की कोर्ट ने उनके खिलाफ साजिश का मामला खारिज कर दिया था.
Arun Mishra
Next Story
Share it