Home > प्रदूषित पानी पीने के बाद डायरिया से पीड़ित हो तीन दर्जन बीमार!

प्रदूषित पानी पीने के बाद डायरिया से पीड़ित हो तीन दर्जन बीमार!

जिलाधिकारी ने किया मौका मुआयना

 शिव कुमार मिश्र |  2017-05-28 06:54:12.0  |  कौशाम्बी

प्रदूषित पानी पीने के बाद डायरिया से पीड़ित हो तीन दर्जन  बीमार!

प्रदूषित पानी पीने के बाद डायरिया से पीड़ित हो तीन दर्जन लोगों के बीमार होने व एक किशोरी की मौत की जानकारी होने पर जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा सिराथू विकास खंड के मोंगरी कड़ा गाँव के दलित बस्ती पहुँचे.


जिलाधिकारी ने गाँव की दलित बस्ती का निरीक्षण किया तो वहाँ उन्हे जगह जगह गंदगी दिखाई पड़ी. इस पर उन्होने जिम्मेदारों को सख्त निर्देश दिया कि सबसे पहले गाँव मे फैली गंदगी साफ कराई जाय. जिलाधिकारी ने गाँव मे लगे हैंडपंप को खुद चलकर उससे निकले पानी की गुणवत्ता को जाँचा. डीएम ने जल निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया है कि जो भी हैंडपंप लगाए जा रहे है उनमे मानक का विशेष ध्यान रखा जाय.

Displaying IMG-20170527-WA0108.jpg

जिलाधिकारी ने ग्रामीणों से बात कर उनसे गंदगी न फैलाने की अपील किया. मीडिया से बात करते हुये जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने कहा कि जिस किशोरी की उपचार के दौरान मौत हुई है वह डायरिया पीड़ित नहीं थी, जाँच मे पता चला है कि मामूली बीमारी से पीड़ित किशोरी कि मौत झोलाछाप डाक्टर की लापरवाही के कारण हुई है. उन्होने माना कि दूषित पानी के इस्तेमाल के कारण कुछ लोग डायरिया से पीड़ित है. जिनका उपचार डाक्टरों की टीम कर रही है. जिलाधिकारी का कहना है कि जिम्मेदारों को सख्त निर्देश जारी कर गाँव के सफाई व्यवस्था बेहतर करने को कहा है.

आपको बता दें कि यह जनपद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का गृह जनपद है. साथ बीजेपी के एससी मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष विनोद सोनकर इस लोकसभा से सांसद है. पिछले कई दिनों से सरकार अपनी वाहवाही कर पीठ थपथपा रही है लेकिन इन गांवों की सफाई और विकास कब होगा यह तो आने वाला समय ही बता पायेगा.

रिपोर्ट नितिन अग्रहरी

Tags:    
Share it
Top