Top
Begin typing your search...

लैंडस्लाइड से अवरुद्ध हुआ बद्रीनाथ मार्ग, करीब 15000 तीर्थयात्री फंसे, हेल्पलाइन नंबर जारी

लैंडस्लाइड से अवरुद्ध हुआ बद्रीनाथ मार्ग, करीब 15000 तीर्थयात्री फंसे, हेल्पलाइन नंबर जारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
विष्णुप्रयाग : उत्तराखंड में ऋषिकेश-बद्रीनाथ नेशनल हाइवे पर शुक्रवार को विष्णुप्रयाग के पास पहाड़ी का एक हिस्सा टूटने से बद्रीनाथ जाने वाला मार्ग बाधित हो गया है। जिसमें 15000 तीर्थयात्री फंसे हुए है। प्रशासन का कहना है कि इस मार्ग को जल्द ही फिर से खोल दिया जाएगा।

यहां पहाड़ी से चट्टान का एक हिस्सा टूटकर गिरने से लगभग 150 मीटर तक सड़क पूरी तरह से बोल्डरों की चपेट में आ गई है। सीमा सड़क संगठन के जवान मलबे को साफ करने में लगे हैं और जल्द ही राजमार्ग को यातायात के लिये खोल दिया जायेगा। वहीं उत्तरखंड सरकार ने चारधाम यात्रियों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी कर दिया है। वो ये है- 0135-2559898, 2552626, 2552627, 2552628 और 1364।

मार्ग अवरुद्ध होने से प्रशासन ने बद्रीनाथ की यात्रा पर आये श्रद्धालुओं को कोई दिक्कत न हो, इसके लिये श्रद्धालुओं को जोशीमठ, पीपलकोटी, कर्णप्रयाग, गोविंदघाट और बद्रीनाथ में ही सुविधाजनक स्थानों पर ठहरने को कहा है।

बता दें राजमार्ग जोशीमठ और बद्रीनाथ के बीच विष्णुप्रयाग के समीप बंद है। दोपहर बाद अचानक हाथीपहाड़ से चट्टान खिसकनी शुरू हो गयी जिससे राष्ट्रीय राजमार्ग से लेकर अलकनंदा नदी तक का बड़ा इलाका मलबे से भर गया।

हालांकि इस घटना कोई भी व्यक्ति घायल नहीं हुआ है। एक अनुमान के मुताबिक भूस्खलन की वजह से करीब 15000 तीर्थयात्री फंसे हैं। मार्ग खोलने के लिए प्रयास तेजी से जारी है। प्रशासन का पूरा अमला इसके लिए मुस्तैदी से काम कर रहा है। उम्मीद है शनिवार शाम तक ये रास्ता फिर से खुल जाए। किसी तरह के डर या चिंता की कोई बात नहीं है।
Vikas Kumar
Next Story
Share it