Home > Archived > विधानसभा चुनाव 2016: BJP का नहीं खुल रहा खाता दो राज्यों, जबकि बाकी भी समाचार ठीक नहीं

विधानसभा चुनाव 2016: BJP का नहीं खुल रहा खाता दो राज्यों, जबकि बाकी भी समाचार ठीक नहीं

 Special News Coverage |  2 April 2016 8:04 AM GMT



पांच राज्यों में हो रहे चुनाव में सर्वे रिपोर्ट के अनुसार किसको होगा नुकसान और किसका होगा फायदा। इस पुरे मामले पर देखिये पूरी विस्तृत जानकारी किसकी की होगी कहाँ सरकार इन राज्यों में। सबसे बड़ी चुनौती इस चुनाव में बीजेपी के नये नियुक्त राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के लिए है। असम और बंगाल पर बहुत ज्यादा फोकस करने के बाद क्या बीजेपी अपनी इज्जत बचा पायेगी। जबकि दो राज्यों में नहीं खुल रहा है खाता।


टाइम्स नाउ-सीवोटर ने पांच राज्यों में होने जा रहे आगामी चुनावों के लिए सबसे बड़ा ऑपिनियन पोल किया है। हाल ही में कराए गए दस पोल में 42,036 लोगों की राय ली गई। इसमें पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी और तमिलनाडु में जयललिता की सरकार लौट रही है तो असम में बीजेपी सबसे बड़ी पार्टी है। केरल में LDF सरकार बनाता दिख रहा है। सर्वे में 3 सीटों का (माइनस या प्लस) मार्जिन ऑफ एरर हो सकता है।


किस राज्य में बन रही है किसकी सरकार

1-पश्चिम बंगाल

पश्चिम बंगाल में में सर्वे के परिणाम बताते हैं कि ममता बनर्जी राज्य में वापसी कर सकती हैं और लेफ्ट भी आगे बढ़ेगा। कांग्रेस को आधी सीटों का नुकसान होता दिख रहा है। सर्वे की मानें तो इस बार बीजेपी का खाता खुलेगा। ममता की पार्टी को 40 फीसदी वोट मिल सकते हैं और यह पार्टी 160 सीटों पर जीत दर्ज कर सकती है। कांग्रेस को आठ फीसदी वोट और 21 सीटें मिल सकती हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में बीजेपी ने एक भी सीट नहीं जीती थी, लेकिन उपचुनाव में पार्टी एक सीट जीतने में कामयाब हो गई थी। सर्वे के मुताबिक इस बार बीजेपी 11 फीसदी वोट हासिल करने के साथ चार सीटें कब्जा सकती है। सीपीएम के गठबंधन को 32 फीसदी वोटों के साथ 106 सीटें मिल सकती हैं। वहीं, नौ फीसदी वोटों के साथ तीन सीटें अन्य के खाते में जा सकती हैं। पश्चिम बंगाल में कुल 294 विधानसभा सीटें हैं।


2-तमिलनाडु

तमिलनाडु विधानसभा चुनाव में जयललिता की पार्टी AIADMK सबसे आगे रहेगी और बीजेपी का खाता नहीं खुल रहा है। डीएमके बढ़त लेती दिख रही है, लेकिन मजबूत स्थिति में नहीं है। सर्वे के अनुसार, AIADMK और इसकी सहयोगी पार्टियों को 130 सीटें मिल सकती हैं और इनका वोट प्रतिशत 39फीसदी के आसपास रहेगा। DMK और इसकी सहयोगी पार्टियों को सर्वे के मुताबिक 70 सीटें मिलेंगी और इनका वोट प्रतिशत 32फीसदी रह सकता है। तमिलनाडु में खाता खोलने के लिए बेकरार बीजेपी के लिए इस सर्वे में कुछ नहीं है। बीजेपी को चार फीसदी वोट मिल सकते हैं, लेकिन सीटें नहीं मिल रही हैं। अन्य प्रत्याशियों को 25 फीसदी वोट मिल सकते हैं और वे 34 सीटों पर कब्जा कर सकते हैं। यहां 234 सीटों पर चुनाव होना है।

3-केरल

ऑपिनियन पोल में LDF को सबसे ज्यादा सीटें मिलती दिख रही हैं, UDF सरकार बनाने से पीछे रह रहा है। बीजेपी का खाता खुलने जा रहा है। LDF को लगभग 44 फीसदी वोट मिलेंगे और 86 सीटों पर जीत हासिल कर सकता है। वहीं, UDF 53 सीटों पर जीतता दिख रहा है और इसे 41 फीसदी वोट मिलेंगे। बीजेपी को केरल में सिर्फ 10 फीसदी वोट मिलते दिख रहे हैं, पर सीट सिर्फ एक मिलेगी। अन्य दलों को पांच फीसदी वोट मिलेंगे, पर सीट नहीं मिलेगी। केरल में 140 सीटों पर चुनाव होना है।


4-असम

बीजेपी असम के चुनाव में कांग्रेस को पछाड़ देगी। सर्वे के मुताबिक, बीजेपी राज्य में सबसे बड़ी पार्टी बनेगी। कांग्रेस की सीटें और वोटशेयर दोनों कम होंगे। कांग्रेस को 53 सीटें मिलने का अनुमान है। पार्टी का वोट शेयर 37 प्रतिशत रहने का अनुमान है। वहीं BJP-AGP(असम गण परिषद)-BPF(बोडोलैंड पीपल्स फ्रंट) के गठबंधन को 55 सीटें मिलने का अनुमान है। सर्वे के मुताबिक, बीजेपी गठबंधन का वोट शेयर 35 प्रतिशत रहेगा। बताया जा रहा है कि बीजेपी द्वारा खेल और युवा मामलों के केंद्रीय मंत्री सर्बानंद सोनोवाल को अपना सीएम उम्मीदवार घोषित करने से पार्टी को फायदा मिलेगा। AIUDF को 12 सीटें और 12 फीसदी वोट शेयर मिलने का अनुमान लगाया गया है। ऐसे हालात में AIUDF किंगमेकर की भूमिका निभा सकती है। असम में 126 सीटें हैं।


5-पंडूचेरी

पंडूचेरी में कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी दिख रही है। बीजेपी का यहां भी खाता नहीं खुल रहा है। कांग्रेस के गठबंधन को 17 सीटों पर और AINRC को सात सीटों पर जीत मिल सकती है। AIADMK को एक सीट मिल सकती है। अन्य प्रत्याशी पांच सीटों पर कब्जा कर सकते हैं। कुल सीटें 30 हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top