Top
Begin typing your search...

भारत में लोग पीएम को गालियां देते हैं, और कहते हैं बोलने की आज़ादी नहीं: परेश रावल

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Paresh Rawal BJP


नई दिल्ली : असहिष्णुता पर जहाँ बॉलीवुड से लेकर राजनीतिक गलियारों में मुद्दा बना हुआ है। वहीं, मशहूर अभिनेता और अहमदाबाद से बीजेपी सांसद परेश रावल ने विरोधियों को करारा जवाब देते हुए कहा, भारत में लोग खुलेआम प्रधानमंत्री को गालियाँ देते हैं उसके बाद भी वे कहते हैं देश में बोलने की आजादी नहीं है।




परेश रावल ने कहा कि जब आप प्रधानमंत्री को गालियाँ देते हो तो लोग चुपचाप सुन लेते हैं और विरोध नहीं करते लेकिन जब आप देश को गाली देते हो तो लोग विरोध करते हैं, इतनी असहनशीलता तो सभी लोगों में होती है।




कहीं न कहीं उनका ये निशाना दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तरफ था जिन्होंने करन जौहर के फ्रीडम ऑफ़ स्पीच के बयान का समर्थन करते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा था कि ‘करन जौहर सही कह रहे हैं, इस देश में सिर्फ एक आदमी को मन की बात कहने की आजादी है, दूसरों को अपनी बात कहने की आजादी नहीं है।

गौरतलब है कि कुछ दिनों पहले दिल्ली सचिवालय में सीबीआई रेड पड़ने के बाद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री मोदी पर अपशब्दों की बौछार करते हुए उन्हें पागल और मनोरोगी तक कह डाला था।
Special News Coverage
Next Story
Share it