Top
Begin typing your search...

राजनाथ सिंह ने नहीं दिया था 'हिंदू शासक' वाला बयान, 'आउटलुक' पत्रिका ने जताया खेद

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
outlook magazine regrets on statement


नई दिल्ली : संसद के शीतकालीन सत्र के दौरान सोमवार को गृह मंत्री राजनाथ सिंह पर सीपीएम सांसद मोहम्मद सलीम ने जिस लेख के हवाले से आरोप लगाया था कि उन्होंने 800 साल बाद देश में हिंदू शासक आने का बयान दिया था उस पर पत्रिका 'आउटलुक' ने खेद जताया है।

मैगजीन ने इस ओर बयान जारी कर कहा, 'हमारी मंशा गृह मंत्री या संसद के मान को ठेस पहुंचाना नहीं था। आउटलुक गृह मंत्री राजनाथ सिंह और मुहम्मद सलीम को जो इस कारण जो शर्मिंदगी उठानी पड़ी, उसके लिए खेद प्रकट करता है।'




वहीं आउटलुक पत्रिका की सफाई आने के बाद सीपीएम सांसद मो. सलीम ने कहा है कि उन्होंने सिर्फ पत्रिका में छपे बयान को देखकर ही अपना बयान दिया था।

क्या था मामला :
यह मामला सोमवार को लोकसभा में इन्टॉलरेंस पर चर्चा के दौरान का है। सीपीएम एमपी मो. सलीम ने राजनाथ सिंह पर आरोप लगाया कि, "उन्होंने 800 साल बाद हिंदू शासक मिलने की बात की थी।" इस पर राजनाथ ने कहा, "आज मैं जितना आहत हुआ हूं, उतना अपने पॉलिटिकल करियर में पहले कभी नहीं हुआ। मैंने कभी ऐसा कोई बयान नहीं दिया। ऐसा बयान देने वाले को गृह मंत्री बने रहने का हक नहीं है।" इस मुद्दे पर जोरदार हंगामे के चलते लोकसभा की कार्यवाही बार-बार स्थगित होती रही। स्पीकर सुमित्रा महाजन ने सलीम के बयान को लोकसभा की कार्यवाही के रिकॉर्ड से हटाने के आदेश दिए।
Special News Coverage
Next Story
Share it