Top
Begin typing your search...

मायावती ने चला 'मुस्लिम कार्ड' : अयोध्या के विवादित ढांचे को बताया 'बाबरी मस्जिद'

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Mayawati on Babri Masjid


नई दिल्ली : बसपा सुप्रीमों और यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने अंबेडकर जयंती पर 'मुस्लिम कार्ड' खेलते हुए अयोध्या के विवादित ढांचे को बाबरी मस्जिद बताया। बता दें कि आज (रविवार को) बाबरी ढांचा विध्वंस की 23वीं बरसी है। ये बात अंबेडकर की पुण्यतिथि पर एक कार्यक्रम के दौरान कही।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बसपा सुप्रीमों ने कहा कि विवादित ढांचे को सांप्रदायिक ताकतों ने ही गिराया था। मायावती का यह बयान आरएसएस चीफ मोहन भागवत के उस बयान के बाद आया, जिसमें उन्होंने कहा था कि 'यह महान लक्ष्य हमारे जीवन में ही साकार हो सकता है। हो सकता है कि इसे हम अपनी आंखों से देखें।' उन्होंने कहा था, 'कोई नहीं कह सकता कि कब और कैसे मंदिर बनेगा, लेकिन हमें तैयार रहने की जरूरत है।'

बसपा सुप्रीमों का मानना है कि बीजेपी की नीतियां देश में सांप्रदायिक ताकतों को मजबूत बनाकर लोकतंत्र को खतरे में डाल रही हैं। मायवती का कहना है कि बीजेपी से लोगों का भरोसा उठ चुका है, जो वादे पार्टी ने किए थे, उन्हें पूरा करने में वह नाकाम साबित हो रही है।

गौरतलब है कि बीएसपी चीफ ने 2014 के लोकसभा चुनाव के बाद से ही मुस्लिम समुदाय को 'अपने पाले में करने' की कोशिशें शुरू कर दी हैं, अब उनके बयानों में यह खासतौर से शामिल रहता है कि बीजेपी के आने से दलित ही नहीं मुस्लिम समुदाय की भी अनदेखी हो रही है।
Special News Coverage
Next Story
Share it