Home > राजनीति > मोदी सरकार के पांच दिग्गज मंत्री जो नहीं बचा पाए अपनी सीट

मोदी सरकार के पांच दिग्गज मंत्री जो नहीं बचा पाए अपनी सीट

लोकसभा के नतीजों में प्रचंड बहुमत हासिल कर एक बार फिर मोदी सरकार बनाने का दावा पेश कर दे दी है।

 Sujeet Kumar Gupta |  24 May 2019 11:15 AM GMT  |  नई दिल्ली

मोदी सरकार के पांच दिग्गज मंत्री जो नहीं बचा पाए अपनी सीट

नई दिल्ली। 17वीं लोकसभा चुनाव को लेकर तरह तरह के कयास लगाये जा रहे थे। तो कोई महाबंधन किया तो किसी को मोदी मैजिक नजर आ रहा था। लेकिन इस बार भी सबका साथ सबका विकाश देखने को मिला। और एक बार फिर से मोदी लहर और मोदी सूनामी देखने को मिली और ज्यादातर राज्यों में मजबूत प्रदर्शन की बदौलत भाजपा ने अपने दम पर बहुमत हासिल कर ली, लोकसभा के नतीजों में प्रचंड बहुमत हासिल कर एक बार फिर मोदी सरकार बनाने का दावा पेश कर दी है।

मगर पूरे देश में मोदी लहर के बावजूद भी कई ऐसे मंत्री रहे, जो अपनी सीट भी नहीं बचा पाए। मोदी सरकार के पांच दिग्गज मंत्री इस लोकसभा में अपनी सीट बचाने में नाकामयाब दिखे और उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा।

आपको बताते है मोदी सरकार के पांच मंत्रियों के बारे में

हंसराज गंगाराम अहिर- मोदी सरकार में केंद्रीय गृह राज्य मंत्री हंसराज गंगा राम अहिर की हार हुई है। इन्हें कांग्रेस के सुरेश नारायण धनोरकर ने चंद्रापुर सीट से हराया है।

सबसे चर्चित सीट गाजीपुर रही है, जहा मनोज सिन्हा केंद्रीय रेल राज्य मंत्री थे और वो विकास के मॉडल पर चुनाव मैदान में थे,और लग भी रहा था कि वो इस बार भी बाजीमार ले जायेगें,लेकिन मनोज सिन्हा की हार ने सबको चौंका दिया है। मनोज को बसपा के अफजल अंसारी के हाथों हार मिली है।

पॉन राधाकृष्णन- तमिलनाडु की कन्याकुमारी सीट पर वित्त राज्य मंत्री पॉन राधाकृष्णन को कांग्रेस नेता एच वसंत कुमार ने हराया।

केजे अल्फोन्स- केंद्रीय मंत्री केजे अल्फोंस भी मोदी लहर में अपनी सीट नहीं बचा पाए। केरल में कांग्रेस नेता हिबी हिडेन केजे अल्फोन्स को हराया है।

हरदीप पुरी- अमृतसर सीट से को कांग्रेस के गुरजीत सिंह आहुजा ने हराया है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top