Top
Begin typing your search...

अब शिवसेना के संजय राउत ने दिल्ली में फैलाया रायता, बीजेपी की बड़ा दी मुश्किलें!

अब शिवसेना के संजय राउत ने दिल्ली में फैलाया रायता, बीजेपी की बड़ा दी मुश्किलें!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली: शिवसेना ने सोमवार को लोकसभा में नागरिकता संशोधन बिल (सीएबी) के पक्ष में वोटिंग की थी। पार्टी के कुछ सांसद अभी भी इसके साथ होने की बात कह रहे हैं। वहीं, शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत के एक बयान से मामले में ट्विस्ट आ गया है। संजय राउत ने सीएबी पर कहा कि कल लोकसभा में क्या हुआ, वह भूल जाइए। इस बयान के बाद कयास लगाए जा रहे हैं कि शिवसेना इस मामले पर अपना स्टैंड बदल सकती है। हालांकि, संजय राउत ने पहले इस बिल का समर्थन किया था।

आपको बता दें कि लोकसभा में पास होने के बाद नागरिकता संशोधन विधेयक बुधवार को राज्यसभा में पेश किया जाएगा। बिल को पास करवाने के लिए बीजेपी को कई अन्य पार्टियों के सहयोग की आवश्यकता है। ऐसे में शिवसेना के तीन राज्यसभा सांसदों का वोट भी काफी महत्वपूर्ण है। वहीं, बिल का विरोध कर रही कांग्रेस पार्टी ने अपने सांसदों को विप जारी कर दिया है।

अरविंद सावंत बोले- राष्ट्रहित की भूमिका में खड़ी रहती है शिवसेना

गौरतलब है कि लंबे समय तक एनडीए में रही शिवसेना अब एनडीए से अलग हो चुकी। महाराष्ट्र में शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर सरकार बनाई है। राज्यसभा में भी बिल का समर्थन करने के सवाल पर शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने कहा, 'अलग-अलग भूमिका होती क्या हमारी? राष्ट्र के हित की भूमिका लेकर शिवसेना खड़ी रहती है, यह किसी की मनॉपली नहीं है।'

क्या धार्मिक भेदभाव वाला है नागरिकता बिल?

लोकसभा में पूर्ण बहुमत होने के कारण सरकार 80 के मुकाबले 311 वोटों से इस बिल को पास करवाने में कामयाब रही थी लेकिन संसद के ऊपरी सदन का गणित दूसरा है। सरकार राज्यसभा में अल्पमत में है, ऐसे में नंबर गेम अहम हो गया है। बीजेपी को उम्मीद है कि सरकार जिस तरह तीन तलाक विधेयक और आर्टिकल 370 हटाने को निष्प्रभावी करने वाले विधेयक को राज्यसभा से पास करवाने में सफल रही थी, उसी रणनीति और गणित के जरिए नागरिकता संशोधन बिल पर भी मुहर लगवा दी जाएगी।










Special Coverage News
Next Story
Share it