Top
Begin typing your search...

प्रियंका गाँधी सुलझाएंगी राजस्थान के सियासी घमासान!

राजस्थान के सियासी संकट को सुलझाने की जिम्मेदारी प्रियंका गांधी को मिली है. प्रियंका गांधी वाड्रा ने सचिन पायलट से फोन पर बातचीत की है.

प्रियंका गाँधी सुलझाएंगी राजस्थान के सियासी घमासान!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

राजस्थान में कांग्रेस से अंदर उठे तूफ़ान की शांत करने की जिम्मेदारी अब कांग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी को मिली है. उन्होंने जिम्मेदारी मिलते ही कांग्रेस के नाराज नेता सचिन पायलट से फोन पर बातचीत की है. प्रियंका ने लगभग पांच मिनट से ज्यादा बात की है. फिलहाल कांग्रेस राजस्थान का मुद्दा सुलझा लेगी यह बात प्रियंका गांधी ने कही है.

प्रियंका के करीबी सूत्रों ने कहा कि उन्होंने दो नेताओं से बात की है और ये नेता उनसे नियमित तौर पर बात करते हैं. लेकिन सूत्रों ने कहा कि वे इस बात की पुष्टि या खंडन नहीं कर सकते कि प्रियंका गांधी ने पायलट से बात की है.

प्रियंका के हस्तक्षेप के बाद पायलट के पोस्टर पीसीसी पर फिर से चिपकाए गए और उनके कहने पर ही रणदीप सुरजेवाला ने जयपुर से पायलट और उनके समर्थकों से वापस लौटने की जोरदार अपील की. कांग्रेस के राज्य प्रभारी अविनाश पांडे ने भी कहा कि वह बातचीत करना चाहते हैं, लेकिन सुबह उन्होंने कहा था कि अनुशासनहीनता बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

सूत्रों ने कहा कि के.सी. वेणुगोपाल को पायलट से बात करने की जिम्मेदारी दी गई है, क्योंकि वेणुगोपाल संगठन महासचिव हैं और संप्रग 2 के दौरान पायलट के साथ केंद्रीय मंत्री रहे हैं. इस बीच, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) ने विधायक दल की बैठक में अपनी ताकत का प्रदर्शन किया, जहां लगभग 105 विधायक उनके साथ दिखाई दिए.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it