Top
Begin typing your search...

राहुल गांधी ने दीया-टॉर्च जलाने पर कही ये बड़ी बात!

दुनिया में इस घातक वायरस से निपटने के लिए मास्क, सैनिटाइजर, ग्लव्स और साबुन का इस्तेमाल किया जा रहा है.

राहुल गांधी ने दीया-टॉर्च जलाने पर कही ये बड़ी बात!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के खिलाफ जंग लड़ने वाले सभी डॉक्टरों, नर्सों और सफाई कर्मचारियों को अब तक सुरक्षा उपकरण नहीं मिल पा रहे हैं. लिहाजा इसको लेकर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरने की कोशिश की है. रविवार को राहुल गांधी ने मोदी सरकार को घेरते हुए ट्वीट किया, 'कोरोना वायरस के विरुद्ध लड़ने वाले स्वास्थ्य क्षेत्र के डॉक्टर, नर्स, सफाई कर्मचारी आदि सबका आभार व्यक्त करने के साथ ही, हमें ये भी याद रखना होगा कि अब तक सबको सुरक्षा उपकरण नहीं मिले हैं. बिना उपकरण के कई समर्पित कर्मचारी निरंतर जान जोखिम में डालने पर मजबूर हैं.'

मोदी सरकार पर तंज करते हुए राहुल गांधी ने ट्विटर पर एक तस्वीर भी शेयर की है. इसमें उन्होंने यह दिखाने की कोशिश की कि भारत में कोरोना वायरस से निपटने के लिए दीपक, टॉर्च और बर्तन का इस्तेमाल किया जा रहा है, जबकि दुनिया में इस घातक वायरस से निपटने के लिए मास्क, सैनिटाइजर, ग्लव्स और साबुन का इस्तेमाल किया जा रहा है.

राहुल गांधी का यह ट्वीट उस समय सामने आया है, जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जनता से कोरोना के अंधकार को खत्म करने के लिए घरों की लाइटों को बंद करके दीपक, मोमबत्ती, टॉर्च और मोबाइल की लाइटों को जलाने की अपील की. वहीं, पीएम मोदी की अपील पर रविवार रात 9 बजे लोग अपने घरों के दरवाजों, बालकनी और छतों पर चढ़कर दीपक व मोमबत्ती जलाया साथ ही टॉर्च व मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाकर रोशनी की.

इस दौरान 9 मिनट तक लोगों ने अपने घरों की लाइटों को भी बंद रखा. आपको बता दें कि भारत समेत पूरी दुनिया को कोरोना वायरस ने जकड़ लिया है. विश्वभर में कोरोना वायरस की चपेट में आने वाले लोगों की संख्या 12 लाख 26 हजार से ज्यादा हो चुकी है, जिनमें से 66 हजार 500 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. भारत में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 3575 पार कर चुका है, जिनमें से 89 लोगों की मौत हो चुकी है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it