Top
Begin typing your search...

रजनीकांत का बयान मोदी है करिश्माई नेता, मजबूत विपक्ष के लिए राहुल को...

30 मई को शपथग्रहण में शामिल होगें रजनीकांत।

रजनीकांत का बयान मोदी है करिश्माई नेता, मजबूत विपक्ष के लिए राहुल को...
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। तमिल फिल्मों के सुपरस्टार रजनीकांत ने लोकसभा चुनाव में भाजपा कि जबरदस्त जीत पर नरेन्द्र मोदी को करिश्माई नेता बताते हुए कहा कि मोदी के 30 मई को दिल्ली में शपथ ग्रहण में हम शामिल होगें। रजनीकांत ने मंगलवार को यहां पत्रकारों से बातचीत में कहा कि भाजपा की जीत मोदी के करिश्मे की विजय है। उन्होने ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को इस्तीफा नही देने की सलाह देते हिए उनके प्रति सहानुभूति जताई और कहा कि पार्टी के वरिष्ठ नेताओं का चुनाव में उन्हे सहयोग नही मिला।

सुपर स्टार ने कहा कि राहुल गांधी को अध्यक्ष पद छोड़ने की बजाय स्वयं को साबित करना चाहिए। उन्होने मोदी के जीत पर कहा है कि – देश में जवाहरलाल नेहरु के बाद राजीव गांधी करिश्माई नेता हुए थे,इन दोनों के बाद मोदी वर्तमान दौर के करिश्माई नेता है,। उन्होंने कहाकि मौजूदा समय में पूरे देश में नरेन्द्र मोदी की लहर है। रजनीकांत ने लोकतंत्र में मजबूत विपक्ष की वकालत करते हुए कहा कि, राहुल गांधी को यह को साबित करना चाहिए कि वह कर सकते है। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने मेहनत नही की।

रजनीकांत का कहना है कि मेरा मानना है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं ने चुनाव में न तो मेहनत की और न ही राहुल के साथ समन्वय स्थापित किया। हालांकि जब से लोकसभा चुनाव परिणाम आया है, तो कांग्रेस के बुरी हार के वजह से पार्टी के अंदर कलह मचा है। उससे कांग्रेस के कई नेता इस्तीफा देने में लगे है। वही राहुल गांधी भी अपनी इस्तीफे की पेशकश कि है। तो कांग्रेस के कद्दावर नेता राहुल को मनाने में लगे है यहा तक कि उनकी बहन प्रियंका गांधी भी भाई को समझाने में लगी है। फिर भी राहुल इस्तीफे पर अड़े है।

Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it