Top
Begin typing your search...

शपथ ग्रहण समारोह: भीड़ में फंसी आशा भोंसले को स्मृति ने दिया सहारा

मैं सुरक्षित घर पहुंच सकूं। वह ख्याल रखतीं हैं।

शपथ ग्रहण समारोह: भीड़ में फंसी आशा भोंसले को स्मृति ने दिया सहारा
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरी बार शपथ ग्रहण सामरोह में कई देशों के गणमान्य लोगों के साथ, भारत के कई हस्तियां शिकरत कि थी। इस शपथग्रहण समारोह में लगभग आठ हजार लोग मौजूद थे। जिसमें मशहूर गायिका आशा भोंसले भी मोदी के शपथग्रहण मे शिकरत कि थी। समारोह के खत्म हो जाने के बाद सब लोग जाने लगे तो उसी भीड़ में आशा भोंसले इस कदर फंस गई कि उन्हें बाहर निकलने में काफी मुश्किल का सामना करना पड़ रहा था।

आशा भोंसले की इस स्थिति पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी की नजर पड़ी और उन्होंने उनकी मदद कीं। स्मृति की इस मदद के लिए आशा भोंसले ने उनका शुक्रिया अदा किया।

30 मई को मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में हिस्सा लेने पहुंची आशा भोंसले ने स्मृति संग अपनी एक तस्वीर को ट्विटर पर साझा करते हुए लिखा "प्रधानमंत्री के शपथ ग्रहण समारोह के बाद मैं भीड़ में बुरी तरह से फंस गई। स्मृति के अलावा किसी ने भी मदद के लिए अपना हाथ आगे नहीं बढ़ाया, मेरी उस स्थिति पर स्मृति की ही नजर पड़ी और बाद में उन्होंने इस बात का भी ख्याल रखा कि मैं सुरक्षित घर पहुंच सकूं। वह ख्याल रखतीं हैं और इसी के चलते उन्हें जीत हासिल हुई है।"



Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it