Top
Begin typing your search...

उद्धव सरकार को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कही हैरान करने वाली बात

उद्धव सरकार को लेकर केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कही हैरान करने वाली बात
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने उद्धव सरकार पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा का आंतरिक विरोधाभास के कारण शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस सरकार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर पाएगी. शरद पवार के बयान पर नितिन गडकरी ने कहा कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की थी। मुलाकात के बारे में शरद पवार ने अपनी बात रखी. अब पीएम मोदी जवाब दे सकते हैं. इसलिए मैं इस मामले में कोई टिप्पणी नहीं करूंगा।

नितिन गडकरी ने कहा कि सरकार या गठबंधन बनाने के लिए सबकी सहमति का होना जरूरी होता है और महाराष्ट्र में इसके लिए मुझसे भी राय ली गई थी. अजित पवार ने देवेंद्र फडणवीस के साथ मिलकर कैसे सरकार बनाई, इसके बारे में केवल फडणवीस ही जवाब दे सकते हैं।

नितिन गडकरी ने यह भी कहा कि वे मुख्यमंत्री के तौर पर महाराष्ट्र वापस लौटने को राजी नहीं हैं. चिदंबरम की जहां तक बात है तो उनके खिलाफ बदले की कोई राजनीति नहीं हो रही है. गडकरी ने कहा, उनके (चिदंबरम) खिलाफ किस प्रकार के आरोप हैं और उसके क्या सबूत हैं, इस बारे में चिदंबरम को अच्छी तरह पता है. जब वे गृह मंत्री थे तो मेरे खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज हुए थे. नरेंद्र मोदी और अमित शाह के खिलाफ भी झूठे केस किए गए लेकिन सभी लोग बाइज्जत बरी हुए।

बतादे कि 288 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए 145 विधायकों की जरूरत होती है, वही शिवसेना के पास सिर्फ 56 विधायक हैं. उद्धव ठाकरे को फ्लोर टेस्ट पास करने के लिए कांग्रेस और एनसीपी के विधायकों की जरूरत होगी. तीनों दलों के विधायकों कुल संख्या 154 है, जो बहुमत के आंकड़े से काफी ज्यादा है। लेकिन जब फ्लोर टेस्ट हुआ तो 169 विधायकों का वोट उद्धव ठाकरे के पक्ष में पड़ा। और विपक्ष में एक भी वोट नही पड़ा।

झारखंड चुनाव के बारे में नितिन गडकरी ने कहा कि आगे और विकास होता रहे, इसके लिए झारखंड के लोग रघुबर दास को दोबारा सत्ता में लाएंगे. वहां सत्ता विरोधी कोई लहर नहीं है. कांग्रेस वहां पूरी तरह गायब हो चुकी है. जेएमएम और कांग्रेस साथ लड़ रही हैं, इसका मतलब है कि बीजेपी मजबूत है।

Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it