Top
Begin typing your search...

राज्यसभा से निलंबित सांसदों को जब चाय पिलाने पहुंचे राज्यसभा उप सभापति हरिवंश

राज्यसभा से निलंबित सांसदों को जब चाय पिलाने पहुंचे राज्यसभा उप सभापति हरिवंश
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

इन सांसदों ने किसान बिल का विरोध किया जिससे नाराज होकर राज्यसभा सभापति ने इनको सदन से एक सप्ताह के लिए निष्काषित कर दिया है.

दिल्ली : राज्यसभा के उप सभापति हरिवंश ने कल राज्यसभा से निलंबित किए गए 8 सांसदों से मुलाकात की धरना स्थल पर जाकर मुलाकात की और घर से बनी चाय ले जाकर सबकी पिलाई. ये सभी सांसद गांधी प्रतिमा के सामने निलंबन के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं. इन सांसदों ने किसान बिल का विरोध किया जिससे नाराज होकर राज्यसभा सभापति ने इनको सदन से एक सप्ताह के लिए निष्काषित कर दिया है.

निष्काषित सांसद संजय सिंह इस बात से बेहद खफा है और वो उसी समय से लगातार गांधी प्रतिमा के सामने बैठे धरना दे रहे है. संजय सिंह ने कहा कि देश में पहली बार कल काला दिन था. जहाँ राज्य सभा में BJP के पास नंबर नही था, बिल गिर जाता इसीलिए नियम क़ानून संविधान व लोकतंत्र की हत्या करके जबरन किसान विरोधी "काला क़ानून" पास कराया गया. जिसका विरोध करने वाले सांसदों को सदन से बाहर कर दिया गया.

संजय सिंह ने कहा है कि किसान विरोधी बिल के खिलाफ साथी सांसदों के साथ संसद भवन में धरने पर बैठा हूँ , यहाँ से जाऊंगा नही , यही गांधी प्रतिमा के नीचे घास पर सोऊंगा. सभी दलों के सांसदों का साथ मिल रहा है. इस किसान विरोधी सरकार को मैं बेनकाब करके रहूंगा. अडानी अम्बानी को किसानों के खेत का मालिक बनाना चाहती है मोदी सरकार. लोकतंत्र की हत्या करके सरकार ने कानून को पास कराया है.मोदी जी को किसानों के हित मे काम करना था तो न्यूनतम समर्थन मूल्य को कानूनी अधिकार क्यों नही बनाया ?

संजय सिंह ने सभी सांसदों के साथ मिलकर देर रात गाना गाकर अपना समय काटा. वीरों की ये बाट है भाई कायर का नही काम रे भैया कायर का नही काम सर पर बाँध कफ़न जो निकले बिन सोचें परिणाम रे कायर का नही काम रे भैया कायर का नही काम।

Next Story
Share it