Home > राज्य > पंजाब > फिरोजपुर > हेरोइन तस्करी के गढ़ पंजाब बार्डर पर भारत पाक रेंजरों और बीएसएफ जवानों की मुलाकात पर गावं वासियों ने उठाई उँगलियाँ

हेरोइन तस्करी के गढ़ पंजाब बार्डर पर भारत पाक रेंजरों और बीएसएफ जवानों की मुलाकात पर गावं वासियों ने उठाई उँगलियाँ

जब बीएसऍफ़ बार्डर रेंज सैक्टर फिरोजपुर के डीआई जी संदीप से मामले पर जानकारी चाही तो उनके संज्ञान में इस तरह की मुलाकात की जानकारी नहीं थी वो बोले मैं तहकीकात करता हूँ बाद में आज वो बोले मैं खाना खा रहा हु बाद मैं बात करता हूँ.

 Special Coverage News |  27 Jan 2019 11:52 AM GMT  |  दिल्ली

हेरोइन तस्करी के गढ़ पंजाब बार्डर पर भारत पाक रेंजरों और बीएसएफ जवानों की मुलाकात पर गावं वासियों ने उठाई उँगलियाँ

फिरोजपुर पंजाब एच एम त्रिखा ब्यूरो चीफ पंजाब

दुनिया भर में मशहूर हुसैनीवाला बार्डरऔर भारतीय पंजाब का पाकिस्तान के एकदम साथ सटा इलाका है. जहां भारत पाकिस्तान की सरहदे एक दूजे के साथ जुड़ रही है, इन्ही इलाकों में है भारत पाकिस्तान की सरहदों के साथ सटे दर्जनों सीमावर्ती गावं और गावों में है भारत पाकिस्तान के कथित हेरोइन तस्कर व हेरोइन की तस्करी का गढ़ जहां से अरबों रुपियो की हेरोइन तस्कर भारतीय तस्करों को भेजने के जुगाड़ पंजाब की जमीनों का इस्तेमाल कर रहें हैं. हर साल पाकिस्तान भारत में इसी बार्डर से अरबों खरबों की हेरोइन भेज रहा है, बी एस ऍफ़ तस्करी होकर आ रही हेरोइन पकड़ती भी है लेकिन धंधा जस का तस तेजी से चल रहा है.

हमारे पुष्ट सूत्रों के हवाले से आ रही खबरों के अनुसार

बीते रविवार देर शाम गावं गन्धू किल्चे के उताड़ में जगदीश चौंकी पर चंद गावं के लोगो के सामने ही पाकिस्तानी रंजरों द्वारा भारतीय बी एस ऍफ़ के जवानो को जोर जोर से आवाजे दे कर व इशारों से बुलाने पर व तत्काल बी एस ऍफ़ के जवानो द्वारा रेंजरों के साथ आधा घंटा चली मुलाकात पर गावं के लोगो ने सीमा पर तैनात दोनों देशों के सिपाहियों पर उंगलिया उठा दी है. कहा की जब भारत में बड़े पैमाने पर इन्ही सरहदों के जरिये अरबों खरबों की हेरोइन तस्करी का धंधा फल फूल रहा है. पंजाब में जहरीला नशा बिक रहा है. पंजाबी नौजवान तबाह होने की कगार पर है. तो पाकिस्तान के रेंजरों और भारतीय जगदीश चौंकी पर तैनात चार सिपाहियों की साँझ ढलते ढलते कुछ पाकिस्तानी रेंजरों के साथ हुई मुलाकात का मकसद क्या था? ये मुलाकात तब की गई जब तार पार खेती करने वाले किसान शाम 5 बजे अपने अपने घरों को लौट चुके थे. लेकिन मामला चंद गांववासियों की नजर चढ़ गया और शोर मच गया. की आखिर दो देशों के सिपाहियों के बीच ये अचानक हुई ख़ुफ़िया मुलाकात का मकसद क्या था ? गांववासियों का ये भी कहना है की बातचीत से पहले बीएसफ के जवान हमें गेट के बाहर वाली साइड से भगा रहे थे अगर मुलाकात वैध थी तो हमें वहां से क्यों भाग जाने को बोले.

जब बीएसऍफ़ बार्डर रेंज सैक्टर फिरोजपुर के डीआई जी संदीप से मामले पर जानकारी चाही तो उनके संज्ञान में इस तरह की मुलाकात की जानकारी नहीं थी वो बोले मैं तहकीकात करता हूँ बाद में आज वो बोले मैं खाना खा रहा हु बाद मैं बात करता हूँ. आई जी महीपाल यादव बोले की मैं प्रवक्ता नहीं बी एस ऍफ़ का वो भी पल्ला झाड़ गए. दरअसल आई जी से हमारे ब्यूरो चीफ ने पूछा था की सरकार या बीएसऍफ़ ऐसी अचनचेत हुई मीटिंग की इजाजत देती है या नहीं मुद्दा जाँच का मोहताज है. क्या भारत की सरकार मामले को लेकर चेतेगी क्यूंकि एक तरफ पाकिस्तान कश्मीर के रस्ते भारत में आंतक फैला रहा है और दूसरी तरफ पंजाब के नोजवानो में नशे फैला कर उन्हें विनाश की तरफ ले जा रहा है. न नशों का सैलाब पंजाब में रुका है न आंतकवाद कश्मीर में रुकने का नाम ले रहा है .

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top