Home > Archived > एक और रेयान स्कूल में बड़ी वारदात, 10 साल के छात्र को टीचर ने जमकर पीटा

एक और रेयान स्कूल में बड़ी वारदात, 10 साल के छात्र को टीचर ने जमकर पीटा

जमालपुर स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दो शिक्षकों द्वारा चौथी कक्षा के एक छात्र को पीटने का मामला सामने आया है। परिजनों ने बुरी जख्मी छात्र का सिविल अस्पताल में इलाज कराया और इसकी शिकायत पुलिस को दी। दूसरी ओर, स्कूल की प्रिंसिपल ने आरोप को बेबुनियाद बताया है।

 आनंद शुक्ल |  29 Sep 2017 9:09 AM GMT  |  नई दिल्ली

एक और रेयान स्कूल में बड़ी वारदात, 10 साल के छात्र को टीचर ने जमकर पीटा

लुधियाना: हरियाणा के गुरुगाम में रेयान इंटरनेशनल स्कूल में बच्चे की हत्या का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि अब लुधियाना में इस स्‍कूल में एक बच्‍चे पर कहर टूटा है। शहर के जमालपुर स्थित रेयान इंटरनेशनल स्कूल के दो शिक्षकों द्वारा चौथी कक्षा के एक छात्र को पीटने का मामला सामने आया है। परिजनों ने बुरी जख्मी छात्र का सिविल अस्पताल में इलाज कराया और इसकी शिकायत पुलिस को दी। दूसरी ओर, स्कूल की प्रिंसिपल ने आरोप को बेबुनियाद बताया है।

बच्चे के पिता सुखविंदर ने बताया, 'छुट्टी के बाद दोपहर में मनसुख जब घर पहुंचा तो सहमा हुआ था। मां के पूछने पर वह कुछ नहीं बोला। उसकी मां ने सोचा, शायद थक गया होगा। लेकिन कुछ देर बाद वह ड्रेस बदलने लगीं तो मनसुख के शरीर पर चोटों के निशान दिखे। इसके बाद भी मनसुख ने कुछ नहीं बताया तो पत्नी ने फोन कर मुझे जानकारी दी गई। घर पहुंचा तो बेटे ने बताया कि टीचर ने पीटा और धमकाया है।"



झगड़ा हुआ था बच्चों के बीच

सुखविंदर ने बताया, "एक दिन पहले उनके बेटे का स्कूल के दूसरे बच्चे से झगड़ा हुआ था। इस पर मैनेजमेंट ने दोनों के पेरेंट्स को बुलाकर समझौता करा दिया। लेकिन इसी दौरान मनसुख के बड़े भाई की टीचर से किसी बात पर बहस हो गई थी। लेकिन वह मामला सुलझ गया था। इसके बाद भी गुरुवार को टीचर ने मनसुख को गुरुवार दोपहर क्लास से बुलाया और कहा कि तेरा भाई बहुत बोलता था, इसका हिसाब तुझे देना होगा। उसके बाद मनसुख को डंडों और लातों-घूंसों से पीटा गया और बाद में धमकाया गया कि अगर तेरे घरवालों ने अब कुछ किया तो पहले सस्पेंड करेंगे और फिर स्कूल से निकाल दिया जाएगा।"
स्कूल प्रिंसिपल गुरपाल आनंद ने आरोप को बेबुनियाद बताया। उन्‍होंने कहा कि बुधवार को स्कूल से छुट्टी के बाद मनसुख ने किसी बच्चे को धक्का मारकर गिरा दिया था, जिससे एक छात्रा का दांत टूट गया था। इसके बाद मनसुख को एक महीने के लिए स्कूल के सस्पेंड कर दिया। घर पहुंचने के बाद उनके परिजनों ने स्कूल टीचर पर झूठे आरोप लगाने शुरू कर दिए।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top