Top
Home > राज्य > राजस्थान > आनंदपाल के बाद मोस्ट वांटेड गैंगस्टर अंकित भादू पुलिस मुठभेड़ में ढेर, राजस्थान और पंजाब में था खौफ!

आनंदपाल के बाद मोस्ट वांटेड गैंगस्टर अंकित भादू पुलिस मुठभेड़ में ढेर, राजस्थान और पंजाब में था खौफ!

इस कुख्यात बदमाश को सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने वाले लॉरेंश बिश्नोई का दाहिना हाथ बताया जाता था।

 Special Coverage News |  8 Feb 2019 4:37 AM GMT  |  दिल्ली

आनंदपाल के बाद मोस्ट वांटेड गैंगस्टर अंकित भादू पुलिस मुठभेड़ में ढेर, राजस्थान और पंजाब में था खौफ!
x

नई दिल्ली : राजस्थान और पंजाब में अपराध की दुनिया का कुख्यात गैंगस्टर अंकित भादू गुरुवार को पुलिस एनकाउंटर में मारा गया। राजस्थान और पंजाब पुलिस की संयुक्त कार्रवाई में अंकित एनकाउंटर में ढेर हो गया। एनकाउंटर में अंकित के दो साथियों को भी गोली लगी हैं। राजस्थान में आनंदपाल के बाद मोस्ट वांटेड अपराधी बन चुके अंकित भादू पर गुरुवार सुबह ही डीजीपी ने एक लाख रुपए का ईनाम घोषित किया था और शाम तक पुलिस ने एनकाउंटर को अंजाम दे दिया।

पिछले साल मई में श्रीगंगानगर में हिस्ट्रीशीटर जॉर्डन उर्फ विनोद चौधरी पर ताबड़तोड़ फायिरंग कर उसकी हत्या कर देने के मुख्य आरोपी अंकित भादू का पुलिस कई दिनों से पीछा कर रही थी। अंकित के खिलाफ हत्या, लूट, रंगदारी जैसे अनेक गंभीर मामले दोनों राज्यों में दर्ज हैं। अकेले राजस्थान में ही अंकित के खिलाफ एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं। इस कुख्यात बदमाश को सलमान खान को जान से मारने की धमकी देने वाले लॉरेंश बिश्नोई का दाहिना हाथ बताया जाता था।

पिछले साल अगस्त में श्रीगंगानगर के सादुलशहर क्षेत्र में कुख्यात गैंगस्टर अंकित भादू और पुलिस के बीच रविवार को मुठभेड़ हुई थी, लेकिन वह पुलिस पर फायरिंग कर बच निकला। भादू पुलिस को चकमा देते हुए पंजाब से होते हुए सिरसा की ओर फरार होना बताया जा रहा है। गैंगस्टर को हाथ से निकलते देखकर पुलिस ने भी उसका पीछा किया। पीछा करने के दौरान दोनों के बीच 30-40 राउंड फायर हुए। इनमें से सात-आठ राउंड फायर गैंगस्टर भादू ने किए, लेकिन इस दरम्यिान भादू पुलिस को चकमा देते हुए वाहन बदलकर हरियाणा में प्रवेश कर फरार हो गया था।

गंगानगर में जॉर्डन हत्याकांड के बाद से अंकित भादू फरार चल रहा था और राजस्थान पुलिस ने उसकी सूचना देने पर 50 हजार रुपए का ईनाम घोषित किया हुआ था। ईनामी राशि बढ़ाने के संबंध में डीजीपी कपिल गर्ग आदेश जारी किए और गुरुवार को ईनाम एक लाख रुपए कर दिया गया।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it