Top
Home > राज्य > राजस्थान > बीकानेर > बीकानेर: माल‍िक को जिंदा चबा गया ऊंट, पैर और गर्दन धड़ से अलग

बीकानेर: माल‍िक को जिंदा चबा गया ऊंट, पैर और गर्दन धड़ से अलग

कॉलोनी के लोग और वहां से न‍िकलने वाले लोग दूर से इस वीभत्स दृश्य को देखते रहे लेक‍िन क‍िसी की भी पास जाने की ह‍िम्मत नहीं हुई.

 Shiv Kumar Mishra |  16 March 2020 11:58 AM GMT  |  बीकानेर

बीकानेर: माल‍िक को जिंदा चबा गया ऊंट, पैर और गर्दन धड़ से अलग
x

अपने माल‍िक से एक ऊंट इतना गुस्सा हो गया क‍ि उसने माल‍िक स‍िर ही चबा डाला. ऊंट ने स‍िर को तब तक दबाए रखा, जब तक क‍ि माल‍िक का स‍िर धड़ से अलग नहीं हो गया. ऊंट की भूख इससे भी शांत नहीं हुई तो वह माल‍िक का एक पैर भी खा गया. रोंगटे खड़े कर देने वाली यह घटना राजस्थान के बीकानेर ज‍िले की है.

बीकानेर में लालगढ़ रेलवे कॉलोनी में रव‍िवार की सुबह एक ऊंट को इतना गुस्सा आ गया क‍ि उसने क‍िकरमीसर के रहने वाले भंवर लाल को अपना न‍िशाना बना ल‍िया. ऊंट ने भंवर लाल के गर्दन को अपने मुंह में दबाया और चबा डाला. ऊंट स‍िर को तब तक चबाता रहा, जब तक क‍ि भंवर लाल की गर्दन, धड़ से अलग नहीं हो गई. इसके बाद सड़क पर ग‍िरे शव का एक पैर भी ऊंट ने चबा ल‍िया. इस घटना के बाद मृतक भंवर लाल का शव सड़क पर ही दो घंटे तक पड़ा रहा. कॉलोनी के लोग और वहां से न‍िकलने वाले लोग दूर से इस वीभत्स दृश्य को देखते रहे लेक‍िन क‍िसी की भी पास जाने की ह‍िम्मत नहीं हुई.

कुछ लोगों ने बाद में ह‍िम्मत द‍िखाई और रस्सी पकड़कर ऊंट गाड़ी को सड़क से क‍िनारे ले जाकर पेड़ स बांधा. घटना का पता चलने पर मृतक का बेटा चोरूराम भी मौके पर पहुंच गया. इस बारे में पुल‍िस ने बताया क‍ि मृतक भंवर लाल ऊंट गाड़ी चलाकर पर‍िवार का पेट पालता था. यह ऊंट उसका ही पालतू था. सुबह करीब 9 बजे वह गाड़ी लेकर रेलवे कॉलोनी जा रहा था, तभी यह घटना घटी.

Tags:    
Next Story
Share it