Top
Home > राज्य > राजस्थान > जयपुर > बाबरी मस्जिद का विध्वंस नहीं चाहते थे कल्याण सिंह

बाबरी मस्जिद का विध्वंस नहीं चाहते थे कल्याण सिंह

 Special Coverage News |  22 March 2019 12:55 PM GMT  |  जयपुर

बाबरी मस्जिद का विध्वंस नहीं चाहते थे कल्याण सिंह

स्थान के राज्यपाल और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह अध्योध्या में बाबरी मस्जिद का विध्वंस नहीं चाहते थे। यह दावा उनके पूर्व सहयोगी अनिल स्वरूप ने किया है, जो कि यूपी कैडर से आईएएस रह चुके हैं। उन्होंने 'द हिंदू' से गुरुवार को कहा, "कल्याण सिंह बाबरी मस्जिद का विध्वंस कभी भी नहीं चाहते थे। उसके पीछे की वजह बेहद सरल थी। वह बाबरी विध्वंस के परिणामों से अच्छी तरह वाकिफ थे।"

दरअसल, स्वरूप की कुछ ही दिनों पहले 'नॉट जस्ट ए सिविल सर्वेंट' किताब आई है, जिसका प्रचार-प्रसार करने वह बुधवार को चेन्नई में थे। कल्याण सिंह जब जून 1991 से दिसंबर 1992 के बीच यूपी के सीएम रहे, तब वह सूचना और जन संपर्क विभाग के निदेशक पद पर थे। उनकी किताब के मुताबिक, छह दिसंबर 1992 को सिंह को जब मस्जिद गिराए जाने के बारे में मालूम चला, तब वह काफी नाराज और निराश हो गए थे।

सिंह पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से नाखुश थे, जिसे लेकर उन्होंने राजस्थान के तत्कालीन सीएम भैरो सिंह शेखावत से फोन पर बात भी की थी। सिंह ने उनसे इस मसले पर अपनी पीड़ा और पार्टी के खिलाफ नाराजगी जाहिर की थी। यही नहीं, उन्होंने वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी से भी संपर्क साधा थे, जो कि उस समय अध्योध्या में ही थे।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it