Top
Begin typing your search...

जनवरी 2020 में इस दिन लगेगा पहला चंद्र ग्रहण, पति-पत्नि ना करे ये काम?

जनवरी 2020 में इस दिन लगेगा पहला चंद्र ग्रहण, पति-पत्नि ना करे ये काम?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली। नया साल 2020 शुरू हो चुका है. इस साल की शुरुआत में 10 जनवरी 2020 में चंद्र ग्रहण लगेगा, जो भारत में दिखाई देगा. इससे पहले वर्ष 2019 के आखिरी महीने यानी 26 दिसंबर को सूर्य ग्रहण लगा था. इस सूर्य ग्रहण को भारत समेत दुनिया के कई भागों में देखा गया था. आइए आपको बताते हैं ग्रहण का समय 10 जनवरी रात 10 बजकर 37 मिनट से 11 जनवरी को दोपहर 2 बजकर 42 मिनट तक होगा।

चंद्र ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को विशेष रूप से ग्रहण की छाया पड़ने से बचना चाहिए. ऐसा माना जाता है कि ग्रहण के दौरान निकलने वाली किरणें बेहद हानिकारक होती हैं जिसका प्रभाव गर्भ में पल रहे शिशु पर पड़ सकता है।

ग्रहण के समय कभी भी पति-पत्नी को शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहिए. कहा जाता है कि इस समय बनाए गए शारीरिक संबध से पैदा हुए बच्चे को जीवन भर परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार ग्रहण के समय कहा जाता है कि पूजा पाठ नहीं करना चाहिए. यही कारण है कि कई मंदिरों में भी मंदिर के कपाट ग्रहण के समय बंद कर दिए जाते हैं. ऐसे में पूजा, उपासना या देव दर्शन करना वर्जित होता है इसलिए आप अपने मन में ईश्वर को याद करें।

ग्रहण की परिभाषा

ग्रहण एक खगोलीय घटना है, जब एक खगोलीय पिंड पर दूसरे खगोलीय पिंड की छाया पडती है, तब ग्रहण होता है । ग्रहण शब्द का उपयोग प्रायः किसी सूर्य अथवा चंद्र ग्रहण का विवरण करने में होता है । जब पृथ्वी पर चंद्रमा की छाया पडती है तब सूर्य ग्रहण होता है और जब पृथ्वी सूर्य तथा चंद्रमा के बीच आती है, तब चंद्र ग्रहण होता है ।


Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it