Top
Begin typing your search...

अपने राशि अनुसार इन रंगों से खेलें होली

ज्‍योतिष शास्‍त्र के अनुसार रंगों का व्यक्ति के जीवन पर बहुत गहरा और अलग-अलग प्रभाव पड़ता है।

अपने राशि अनुसार इन रंगों से खेलें होली
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

हर साल फाल्गुन के महीने में रंगों का सबसे बड़ा त्योहार होली बड़े ही उत्साह और उमंग के साथ मनाई जाती है। इस दिन रंगो से होली खेली जाती है। इस बार 10 मार्च को होली है। रंगो की होली से एक दिन पहले होलिका दहन की जाती है फिर अगले दिन होली खेली जाती है। रंगों का जीवन से गहरा संबंध होता है। रंग हमारी भावनाओं को दर्शाते हैं। रंगों के माध्यम से व्यक्ति शारीरिक व मानसिक रूप से प्रभावित होता है। यही कारण है कि हमारी भारतीय संस्कृति में होली का पर्व फूलों, रंग और गुलाल के साथ खेलकर मनाया जाता है। इस होली किसी भी रंग की जगह अपनी राशि अनुसार अबीर-गुलाल के रंग से होली खेलें।

ज्‍योतिष शास्‍त्र के अनुसार रंगों का व्यक्ति के जीवन पर बहुत गहरा और अलग-अलग प्रभाव पड़ता है। ऐसे में अपनी राशि अनुसार होली के रंग से होली खेलने से व्यक्ति अपनी सोई किस्मत चमका सकता है। आइए जानते हैं किस राशि के जातक के लिए किस रंग से होली खेलना होगा बेहद शुभ।

मेष- मेष राशि के जातकों के लिए होली के दिन लाल गुलाल से होली खेलना आति शुभ है।

वृषभ- इस राशि के व्यक्ति को होली पूजन के बाद हल्‍के पीले रंग से होली खेलनी चाहिए।

मिथुन- मिथुन राशि वाले जातकों को इस होली हरे रंग से होली खेलनी चाहिए।

कर्क- अगर आपकी राशि कर्क है तो आपको होली के दिन सफेद कपड़े पहन कर केवल गुलाल से होली खेलनी चाहिए।

सिंह- सिंह राशि वालों को होली के दिन भगवान सूर्य का पूजन करना चाहिए। इसके बाद आप लाला गुलाल या मेहरून रंग से होली खेल सकते हैं।

कन्या- इस राशि के जातकों को ब्रह्ममूहर्त में उठकर होली पूजन के बाद गणपति बप्पा और धन कुबेर जी के दर्शन करने के बाद टेसू के रंग से होली खेलनी चाहिए।

तुला- तुला राशि के जातकों को सुबह उठकर होली पूजन के बाद मां दुर्गा का पूजन करना चाहिए। इसके बाद आप लाल और पीले रंग के गुलाल से होली खेल सकते हैं।

वृश्चिक- वृश्चिक राशि के जातकों को ब्रह्ममूहर्त में होली पूजन के बाद भगवान गणपति और उनकी पत्नियों रिद्धि-सिद्धि का पूजन करना चाहिए। पूजन के बाद इस राशि के जातकों को होली खेलने के लिए गुलाबी रंग का प्रयोग करना चाहिए।

धनु - धनु राशि के जातकों को सुबह उठकर होली पूजन के बाद पीले रंग से हाली खेलनी चाहिए।

मकर- मकर राशि के जातकों को हल्के गुलाबी और पीले रंग से होली खेलनी चाहिए।

कुंभ- इस राशि के जातक को हरे और सिंदूरी रंग से होली खेलनी चाहिए।

मीन- इस राशि के जातक के लिए पीले रंग के गुलाल से होली खेलना शुभ रहेगा।

Sujeet Kumar Gupta
Next Story
Share it