Top
Begin typing your search...

T20 WC : टीम इंडिया की हार के पांच बड़े कारण, न्यूजीलैंड से मिली लगातार 5वीं बार

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
टीम इंडिया


नई दिल्ली : टी20 वर्ल्ड कप के सुपर-10 के पहले मुकाबले में टीम इंडिया को 47 रन से हार का सामना करना पड़ा। भारत ने न्यूजीलैंड को 7 विकेट पर 126 रन के छोटे स्कोर पर रोक लिया था, लेकिन बैट्समैन पूरी तरह फ्लॉप रहे। वहीं, इस हार के लिए कैप्टन कूल महेंद्र सिंह धौनी ने बल्लेबाजों को दोषी ठहराया है।

भारतीय टीम 18.1 ओवर में 79 रन ही बना सकी। नौ बैट्समैन स्पिनर्स का शिकार हुए। टी20 में न्यूजीलैंड के खिलाफ इंडिया ने अब तक 5 मैच खेले हैं। सभी में उसे हार का सामना करना पड़ा है।

टी20 में भारत का दूसरा सबसे कम स्कोर है। इससे पहले 2008 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 74 पर ऑलआउट हुई थी। टीम इंडिया की टी20 में दूसरी सबसे बड़ी हार है।


Indian cricket team
टीम इंडिया


टीम इंडिया की इस हार के पांच बड़े कारण ?
1. होमवर्क की कमी :
टीम इंडिया ने कीवी टीम के गेंदबाजों पर होमवर्क अच्छे से नहीं किया था। मैच के दौरान उनके होमवर्क में कमी साफ नजर आई। इश सोढ़ी की गेंद पर विराट कोहली जिस तरह से आउट हुए हर कोई हैरान रह गया। इस टूर्नामेंट में अब टीम इंडिया को इस तरह की गलती से बचना होगा।

2. न्यूजीलैंड की चौकस फील्डिंग :
फील्डिंग हमारी भी खराब नहीं थी, लेकिन कीवी टीम की फील्डिंग एक्स्ट्रा ऑर्डिनरी थी। शानदार कैच और फील्डिंग के दौरान रन बचाना कोई कीवी टीम से सीखे।

3. टीम इंडिया का ओवर कॉन्फिडेंस :
ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी-20 सीरीज में 3-0, श्रीलंका के खिलाफ घरेलू टी-20 सीरीज में 2-1 और फिर एशिया कप में मिली खिताबी जीत से टीम इंडिया का मनोबल बढ़ा हुआ था। लेकिन यह कॉन्फिडेंस इस मैच में ओवर कॉन्फिडेंस जैसा नजर आया। आगे के लिए टीम इंडिया को संभल कर खेलना होगा।

4. छोटे लक्ष्य को हल्के में लेना :
टीम इंडिया को 127 रनों का लक्ष्य मिला था। मजबूत बैटिंग लाइन-अप होने के बावजूद हम इस लक्ष्य तक नहीं पहुंच सके। टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने इस लक्ष्य को हल्के में लिया और उनका अप्रोच बहुत कैजुअल नजर आया। एक के बाद एक विकेट गिरते गए और किसी ने भी विकेट पर टिककर खेलने की कोशिश नहीं की। धौनी और विराट कोहली को छोड़कर कोई बल्लेबाज पॉजिटिव अप्रोच के साथ बल्लेबाजी करते हुए नजर नहीं आया।

5. पिच का पचड़ा :
पिच बहुत टर्न ले रही थी। दूसरी पारी में गेंद बहुत ज्यादा टर्न हो रही थी। इस तरह की पिच टीम इंडिया को काफी महंगी पड़ी। पहली पारी में अगर कीवी बल्लेबाज टर्न लेती पिच पर संघर्ष करते नजर आए तो दूसरी पारी में टीम इंडिया ने तो स्पिन और टर्न के सामने सरेंडर ही कर दिया।
Special News Coverage
Next Story
Share it