Top
Begin typing your search...

रवि शास्त्री ने की टीम इंडिया के बल्लेबाजों के प्रदर्शन की आलोचना, दी ये सलाह

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Ravi Shastri

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के निदेशक रवि शास्त्री ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरिज में भारतीय बल्लेबाजों के प्रदर्शन की आलोचना की है। उनका कहना है कि बल्लेबाजों को टर्निंग पिचों पर स्पिनर्स का सामना करने के लिए सुधार की जरूरत है। गौरतलब है कि 4 टेस्ट मैच की यह सीरिज भारत ने 3-0 से जीती थी।

टीम इंडिया के निदेशक ने बीसीसीआई टीवी से बातचीत में कहा कि हमारे खिलाड़ी ज्यादा घरेलू क्रिकेट नहीं खेलते जो कि एक समस्या है लेकिन इसमें उनकी भी कोई गलती नहीं है। उनका कार्यक्रम काफी व्यस्त रहता है। टीम के खिलाडिय़ों ने पिछले दो साल में विदेशों में क्रिकेट खेला है लेकिन जब वे स्वदेश लौटे तो यहीं पिच उन्हें विदेशी लगने लगी जबकि इसी पिच पर वे खेलकर बड़े हुए हैं। यह उनके लिए एक सबक है।

शास्त्री ने कहा कि भारतीय बल्लेबाजों को सुधार करने की जरूरत है। उन्होंने अजिंक्या रहाणे की तारीफ करते हुए कहा कि दिल्ली टेस्ट में उन्होंने शानदार बल्लेबाजी की और रक्षात्मक व आक्रामक दोनों तरह का प्रदर्शन किया। उसने पहले दो टेस्ट में किए गए खराब प्रदर्शन में सुधार किया। उन्होंने कप्तान विराट कोहली की तारीफ करते हुए कहा कि ऑस्ट्रेलिया में एडिलेड में कप्तानी संभालने के एक साल बाद वह टीम का लीडर है। वह सभी खिलाडिय़ों से बात करता है और सभी विभागों में ध्यान रखता है।

शास्त्री ने शिखर धवन, ईशांत शर्मा और रवीन्द्र जडेजा के प्रदर्शन की भी तारीफ की। उन्होंने कहाकि ईशांत संपूर्ण तेज गेंदबाज बनने के करीब है। उसे पता है कि अलग अलग हालात में कैसे ढलना है और कब आक्रामक होना है। वह अपने खेल को समझ गया है और तकनीकी तौर पर भी अच्छा है। वह इस समय हमारा सबसे विश्वस्त तेज गेंदबाज है। जडेजा के बारे में शास्त्री ने कहाकि लगातार सभी फॉर्मेट में खेलते रहने के कारण उस पर दबाव आ गया। 3 महीने के ब्रेक से उस पर से दबाव हट गया जो उसके प्रदर्शन में भी नजर आया।
Special News Coverage
Next Story
Share it