Top
Home > Archived > विजेंदर सिंह ने सांप का खून पीने वाले मुक्केबाज को दी करारी मात, शहीदों के नाम की अपनी जीत

विजेंदर सिंह ने सांप का खून पीने वाले मुक्केबाज को दी करारी मात, शहीदों के नाम की अपनी जीत

 Special News Coverage |  13 March 2016 5:57 AM GMT


boxer vijender defeated hungarian


लंदन : भारत के स्टार मुक्केबाज विजेंदर सिंह ने पेशेवर मुक्केबाजी में सांप का खून पीने वाले हंगरी के एलेक्जेंडर होरवाथ को तीन राउंड में ही धूल चटा कर जीत का अभियान जारी रखते हुए लगातार चौथी जीत दर्ज की। विजेंदर सिंह ने इस जीत को शहीदों के नाम किया है।

इस मुकाबले के लिए होरवाथ जहां सांपों का खून पीकर तैयारी कर रहे थे, वहीं विजेंदर ने देसी घी और दूध पीकर अपनी तैयारियों को अंजाम दिया था। मैच में 30 साल के विजेंदर अपने से 10 साल छोटे प्रतिद्वंद्वी पर भारी पड़े।


पहले राउंड में विजेंदर ने होरवाथ के ख़िलाफ़ संभल कर शुरुआत की। विजेंदर ने नजदीकी अंतर से पहला राउंड जीता, दूसरे राउंड में होरवाथ मनोवैज्ञानिक रूप से विजेंदर के सामने दबाव में दिखे और विजेंदर से दूर रहने की कोशिश की। लेकिन तीसरे राउंड में विजेंदर सिंह ने होरवाथ को कोई मौक़ा नहीं दिया और एक ज़ोरदार साइड पंच जमाया, जिससे होरवाथ रिंग में लड़खड़ाने लगे और गिर गए। रेफ़री ने मैच रोकने का फ़ैसला किया और इसी के साथ विजेंदर ने ये मुक़ाबला अपने नाम किया।

शहीदों के नाम की अपनी जीत :
मैच के बाद विजेंदर ने कहा, 'मैं नहीं जानता कि मुझे क्या हुआ, मुझे लगता है कि वह बहाना बनाकर बाहर निकलना चाहता था। इस साल में यह मेरे लिए अच्छी शुरआत है। मैं एक और नॉकआउट मैच जीत कर खुश हूं। मेरे ख्याल से भारत में इस साल (11 जून को) होने वाले डब्ल्यूबीओ एशिया के खिताबी मुकाबले से पहले मेरे लिए यह शानदार शुरुआत है।' विजेंदर ने अपनी जीत जम्मू-कश्मीर और पठानकोट में शहीद हुए भारतीय सेना के जवानों के नाम किया है।




विजेंदर ने ट्वीट कर बताया, 'रिंग में उतरते वक्त मैंने सिर्फ अपने देश और अपने देश के झंडे के बारे में सोचा और मुझे भारतीय होने पर गर्व है।'




विजेंदर का अगला मुकाबला दो अप्रैल को होगा। मैच किस स्थान पर होगा इसका निर्णय अभी होना बाकी है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it