Top
Home > खेलकूद > क्रिकेट > युवराज सिंह के खिलाफ पुलिस में दर्ज हुई शिकायत, भारी पड़ गया ये कमेंट

युवराज सिंह के खिलाफ पुलिस में दर्ज हुई शिकायत, भारी पड़ गया ये कमेंट

हरियाणा के हिसार जिले के एक दलित अधिकार कार्यकर्ता और वकील रजत कल्सन ने युवराज सिंह के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

 Arun Mishra |  4 Jun 2020 2:05 PM GMT

युवराज सिंह के खिलाफ पुलिस में दर्ज हुई शिकायत, भारी पड़ गया ये कमेंट

हाल ही में टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर युवराज सिंह सोशल मीडिया पर लोगों के निशाने पर रहे. युवराज सिंह ने रोहित शर्मा और युजवेंद्र चहल के साथ इंस्टाग्राम लाइव चैट के दौरान हंसी-मजाक में एक जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया.

अब इसको लेकर युवराज सिंह के खिलाफ FIR भी दर्ज करवाई गई है. हरियाणा के हिसार जिले के एक दलित अधिकार कार्यकर्ता और वकील रजत कल्सन ने युवराज सिंह के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

रजत कल्सन ने बताया कि उन्होंने यह लिखित शिकायत दी है. उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया में सोमवार से वायरल हो रहे एक वीडियो में युवराज क्रिकेटर रोहित शर्मा से बातचीत में यह टिप्पणी करते दिखते हैं. कल्सन ने कहा कि रोहित शर्मा को युवराज की इस बात का विरोध जताना चाहिए था, लेकिन वो हंस कर सहमति जता रहे थे. ऐसे में दलित समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं.

रजत कल्सन ने कहा कि इस टिप्पणी को पूरे देश के दलित समाज के लोगों ने देखा है और इससे पूरे देश के दलित समुदाय की भावनाएं आहत हुई हैं. कल्सन ने कहा कि उन्होंने एसपी हांसी को एक शिकायत की है, जिसमें उन्होंने भारत के दलित समाज के खिलाफ सोशल मीडिया पर टिप्पणी करने के बारे युवराज सिंह के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि अगर इस मामले में युवराज सिंह के खिलाफ कार्रवाई नहीं की गई इस बारे में बड़ा आंदोलन किया जाएगा.

हांसी के पुलिस अधीक्षक लोकेंद्र सिंह ने कहा कि शिकायत मिली है और डीएसपी इसकी जांच कर रहे हैं. हमने मामले की जांच डीएसपी सिटी को सौंपी है. जांच में जो सामने आएगा, उस हिसाब से कार्रवाई करेंगे.' अगर युवराज इसमें आरोपी पाए जाते हैं, तो वह मुश्किल में पड़ सकते हैं.

बता दें कि पिछले कुछ समय में ये दूसरा मौका है, जब इस तरह युवराज सिंह को सोशल मीडिया पर लोगों के गुस्से का सामना करना पड़ रहा है. इससे पहले जब युवराज सिंह ने पाकिस्तानी क्रिकेटर शाहिद आफरीदी के फाउंडेशन को लेकर आर्थिक मदद की अपील की थी, तब भी लोगों ने उन्हें ट्विटर पर निशाने पर लिया था.

जातिसूचक शब्द के इस्तेमाल के बाद ट्विटर पर एक हैशटैग चलाया गया, जिसमें #युवराज_सिंह_माफी_मांगो की मांग की जा रही थी. बहुत से लोग युवराज सिंह को भला-बुरा कह रहे थे और माफी मांगने को कह रहे थे.


Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Arun Mishra

Arun Mishra

Arun Mishra


Next Story
Share it