Top
Breaking News
Home > खेलकूद > जन्मदिन स्पेशल: क्रिकेट ग्राउंड पर क्या करना चाहते थे रोहित शर्मा?

जन्मदिन स्पेशल: क्रिकेट ग्राउंड पर क्या करना चाहते थे रोहित शर्मा?

टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे 'हिटमैन' ने 22 दिसंबर 2017 को श्रीलंका के खिलाफ इंदौर टी-20 में 35 गेंदों में शतक (43 गेंदों में 118 रन) ठोक दिया था. इसी के साथ ही उन्होंने टी-20 इंटरनेशनल में डेविड मिलर के सबसे तेज शतक के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी कर ली.

 Shiv Kumar Mishra |  30 April 2020 3:04 AM GMT  |  दिल्ली

जन्मदिन स्पेशल: क्रिकेट ग्राउंड पर क्या करना चाहते थे रोहित शर्मा?

वनडे इंटरनेशनल में एक या दो नहीं, बल्कि तीन डबल सेंचुरी बनाने का करिश्मा करने वाले 'हिटमैन' रोहित शर्मा आज (30 अप्रैल) 33 साल के हो गए. मुंबई का यह तूफानी बल्लेबाज 50 ओवरों के फॉर्मेट में न सिर्फ तीन दोहरे शतक (209, 264, 208*) जमा चुका है, बल्कि वनडे की सबसे बड़ी पारी (264 रन) खेलने का वर्ल्ड रिकॉर्ड भी अपने नाम रखता है. आइए, रोहित के जन्मदिन के मौके पर जानते हैं उनसे जुड़ी खास बातें.

क्रिकेट की दुनिया में कुछ ऐसे धुरंधर हुए, जिन्होंने अपनी ख्वाहिशों को दबाया, जो सलाह दी गई उस पर अमल किया और एक दिन विश्व क्रिकेट में छा गए. मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को ही लीजिए- वह तेज गेंदबाज बनना चाहते थे, लेकिन डेनिस लिली ने उन्हें बल्लेबाजी पर पूरा ध्यान लगाने को कहा. और इसके बाद क्या हुआ, दुनिया जानती है.

रोहित शर्मा भी गेंदबाज बनना चाहते थे. वह ऑफ स्पिनर बनकर पिच पर बल्लेबाजों को भरमाना चाहते थे. लेकिन उनके कोच दिनेश लाड (मुंबई के बल्लेबाज सिद्धेश लाड के पिता) ने उनकी बल्लेबाजी प्रतिभा को पहले ही भांप लिया था. उन्होंने रोहित को बल्लेबाजी में हाथ आजमाने की सलाह दी. फिर क्या था यह बल्लेबाज 'हिटमैन' बनकर उभरा और अपनी करामाती पारियों से प्रशंसकों का दिल जीतता गया.

- ये रहा रोहित का पहला धमाका

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम रखने से पहले ही रोहित ने अपने बल्ले का दम दिखा दिया था. वह टी-20 में शतक जमाने वाले पहले भारतीय बल्लेबाज बन गए. दरअसल, उन्होंने 4 अप्रैल 2007 को सैयद मुश्ताक अली टी-20 टूर्नामेंट (भारतीय सरजमीं पर पहला आधिकारिक टी 20 टूर्नामेंट) के पहले संस्करण में मुंबई की ओर खेलते हुए गुजरात के खिलाफ 45 गेंदों में नाबाद 101 रनों की धमाकेदार पारी खेली थी. यह रोहित का टूर्नामेंट में महज दूसरा मैच था, इससे पहले उन्होंने डेब्यू मैच में बड़ौदा के खिलाफ 40 रन बनाए थे.

रोहित FACTS -

- इसी के बाद रोहित को जून 2007 में वनडे इंटरनेशनल में डेब्यू (आयलरलैंड के खिलाफ) का मौका मिला. उसी साल सितंबर में उन्होंने टी-20 इंटरनेशनल (टी-20 वर्ल्ड कर 2007, इंग्लैंड के खिलाफ) में भी पदार्पण किया. लेकिन इन दोनों प्रारूपों के अंतरराष्ट्रीय डेब्यू में रोहित को बल्लेबाजी का चांस नहीं मिला.

- रोहित शर्मा दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ फरवरी 2010 में टेस्ट डेब्यू करने वाले थे, लेकिन मैच की सुबह वह चोटिल हो बैठे. और उन्हें डेब्यू के अगले मौके के लिए तीन साल तक इंतजार करन पड़ा था. आखिरकार उन्होंने नवंबर 2013 में टेस्ट पदार्पण (वेस्टइंडीज के खिलाफ कोलकाता में) किया और पहले ही मैच शतक (177 रन) ठोक दिया.

नवंबर-दिसंबर से है खास कनेक्शन

वनडे में रोहित के दोहरे शतकों का नवंबर-दिसंबर से खास कनेक्शन है. मजे की बात यह है कि इनमें से दो तो नवंबर महीने में रोहित के बल्ले से आए, जबकि उन्होंने अपने करियर की तीसरी डबल सेंचुरी दिसंबर में लगाई.

209 रन 2 नवंबर 2013, विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया (बेंगलुरु)

264 रन 13 नवंबर 2014, विरुद्ध श्रीलंका (कोलकाता)

208* रन 13 दिसंबर 2017 विरुद्ध श्रीलंका (मोहाली)

टेस्ट करियर के शुरुआती तीनों शतक नवंबर में

इतना ही नहीं, रोहित के टेस्ट करियर के शुरुआती तीनों शतक नवंबर महीने में आए. जबकि रोहित ने छह में से आखिरी तीन टेस्ट शतक सलामी बल्लेबाज के तौर पर अक्टूबर में बनाए.

- 177 रन- 7 नवंबर 2013, विरुद्ध वेस्टइंडीज (कोलकाता)

- 111* रन- 15 नवंबर 2013 विरुद्ध वेस्टइंडीज (मुंबई)

- 102* रन- 26 नवंबर 2017 विरुद्ध श्रीलंका (नागपुर)

दिसंबर में ही विवाह बंधन में बंधे रोहित-रीतिका

रोहित शर्मा और रीतिका सजदेह दिसंबर (13 दिसंबर 2015) में ही विवाह बंधन में बंधे थे. वनडे में रोहित का तीसरा दोहरा शतक उनकी शादी की दूसरी वर्षगांठ पर आया. उस डबल सेंचुरी के दौरान मोहाली के स्टेडियम में मौजूद रीतिका भावुक हो उठी थीं.

दिसंबर में रोहित शर्मा के घर आई नन्ही परी

शादी के तीन साल बाद 30 दिसंबर 2018 को रोहित शर्मा के घर बेटी ने जन्म लिया. तब ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज के कारण वह मुंबई में अपनी पत्नी के साथ नहीं हो पाए थे, लेकिन बेटी के जन्म की खबर मिलते ही मेलबर्न से मुंबई के लिए निकल गए. वह 'रविवार' रोहित के लिए दोहरी खुशी का दिन रहा. एक ओर वह मेलबर्न टेस्ट (26 से 30 दिसंबर 2018) की ऐतिहासिक जीत का हिस्सा रहे, दूसरी ओर उनके घर बेटी ने जन्म लिया. मेलबर्न टेस्ट जीत एतिहासिक इसलिए क्योंकि मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर टीम इंडिया ने 37 साल बाद जीत हासिल की.

टी-20 इंटरनेशनल: 35 गेंदों में शतक का रिकॉर्ड भी दिसंबर में

टीम इंडिया की कप्तानी कर रहे 'हिटमैन' ने 22 दिसंबर 2017 को श्रीलंका के खिलाफ इंदौर टी-20 में 35 गेंदों में शतक (43 गेंदों में 118 रन) ठोक दिया था. इसी के साथ ही उन्होंने टी-20 इंटरनेशनल में डेविड मिलर के सबसे तेज शतक के वर्ल्ड रिकॉर्ड की बराबरी कर ली.

रोहित का अंतरराष्ट्रीय करियर

- रोहित शर्मा ने अब तक 224 वनडे में 49.27 की औसत से 9115 रन बनाए हैं. उन्होंने 29 शतक औक 43 अर्धशतक जमाए हैं.

- 108 टी-20 इंटरनेशनल में 32.62 की औसत से उन्होंने 2773 रन बनाए हैं. उनके बल्ले से 4 शतक 21 अर्धशतक निकले हैं.

- रोहित के 32 टेस्ट मैचों में 46.54 की औसत से 2141 रन हैं, जिसमें 6 शतक और 10 अर्धशतक शामिल हैं.

... लेकिन गेंदबाजी नहीं भूले, आईपीएल में हैट्रिक लगाई

आईपीएल में हैट्रिक लेने वालों में रोहित शर्मा का भी नाम शामिल है. रोहित ने आईपीएल में कम ही गेंदबाजी की है. 2009 में डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलते हुए उन्होंने मुंबई इंडियंस के खिलाफ इस मुकाम को हासिल किया था. उस सीजन में रोहित ने हैट्रिक सहित 11 विकेट चटकाए थे. उन्होंने आईपीएल में अब तक कुल 15 विकेट चटकाए हैं. आखिरी बार उन्होंने 2014 आईपीएल में गेंदबाजी की थी.

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it