Top
Begin typing your search...

केजरीवाल ने भरी हुंकार, बोले-दिल्ली का रिकॉर्ड अब 'पंजाब' को तोडना है

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Kejriwal Punjab Rally


मुक्तसर (पंजाब) : पिछले साल दिल्ली में फतह का परचम लहराने के बाद आम आदमी पार्टी की नजर पंजाब पर है। मुक्तसर में आज दिल्ली के मुख्यमंत्री और 'आप' संयोजक' अरविन्द केजरीवाल ने मुक्तसर रैली को सम्बोधित करते हुए कहा, इस बार दिल्ली का रिकॉर्ड पंजाब को तोडना है, एक साल में बड़ी मेहनत करनी है।

केजरीवाल ने कहा, पिछले 10 सालों में सिर्फ पंजाब को लूटा गया है। एक बार कांग्रेस एक बार अकाली दल सत्ता में आ जाती है और इनकी आपस में साठ-गाठ चलती रहती है, लेकिन हमने यहां आकर रायता फैला दिया है।

केजरीवाल ने कहा, दिल्ली के बाद अब पंजाब की बारी है। पंजाब शहादत की भूमि है और हम शहादत के लिए भी तैयार हैं। अब जब पंजाब में 'आप' की सरकार बनेगी, पठानकोट के शहीदों को 1 करोड़ की सम्मान राशि दी जाएगी। उन्होंने कहा, सारा पंजाब जानता है मजीठिया ड्रग्स का धंधा करता है। बादलों ने तो कुछ नहीं कहा, पर कैप्टेन साहब का मजीठिया से क्या रिश्ता है?

उन्होंने कहा, दिल्ली में भी फसल बर्बाद हुई हमने 50 हज़ार/हेक्टेयर मुआवज़ा दिया। ये कोई हमने एहसान नहीं था, ये आपका हक है। हम आपको आपका हक़ देना चाहते हैं। कांग्रेस चुनाव के वक़्त आकर पंजाब की सरकार के खिलाफ बयानबाज़ी करती है, और 5 साल सर्वसहमति रहती है। कांग्रेस भाजपा ने देश के अन्य राज्यों की तरह आपस में एक समझौता कर लिया, और विपक्ष आंख मूँद कर बैठ गया।

आपको बता दें कि आम आदमी पार्टी ने लोकसभा चुनावों में राज्य की सभी 13 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे थे जिसमें से 4 पर पार्टी ने जीत दर्ज की थी। आमतौर पर यहां मुकाबला कांग्रेस और अकाली दल-बीजेपी के बीच होता है।

बता दें कि केजरीवाल ने 2014 के आम चुनावों में जो चार सीटें जीती थीं, वे सभी पंजाब से थीं। इसी के बाद राज्य में यह पार्टी अपनी संभावना देख रही है और दिल्ली की जीत के बात इस आशा को बल भी मिला है जब पार्टी ने दिल्ली की 70 विधानसभा सीटों में से 67 सीटें जीतीं।

दरअसल आज पंजाब के मुक्तसर में माघी मेले में तीन बड़ी रैलियां होने जा रही हैं। माघी मेला पंजाब में लगने वाला धार्मिक मेला है। अगले साल तयशुदा पंजाब चुनावों में अपने अपने परचम फहराने की कोशिशों के तहत ये रैलियां हो रही हैं। इस मेले में कांग्रेस और अकाली दल कि भी रैली है। सीएम प्रकाश सिंह बादल अब तक की सबसे बड़ी रैली करने का दावा कर रहे हैं।
Special News Coverage
Next Story
Share it