Top
Breaking News
Home > Archived > चंदौली चुनावी रंजिशः गांव में सरेआम गोली चलने से ग्रामीणों में अफरा-तफरी

चंदौली चुनावी रंजिशः गांव में सरेआम गोली चलने से ग्रामीणों में अफरा-तफरी

 Special News Coverage |  27 Dec 2015 1:04 PM GMT


सकलडीहा (अरविन्द सिंह)ः स्थाानीय कोतवाली के महेशी गांव में रविवार को बिजली का तार खिंचे जाने के मामले को लेकर दो पक्षों के बीच उपजे विवाद ने ऐसा भयंकर रूप ले लिया कि देखते ही देखते लाठी-डंडों के बाद एक पक्ष की ओर से हवाई फायरिंग होने लगी। इस दौरान नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान के पति राजकुमार सिंह (40) गम्भीर रूप से घायल हो गये। गांव में सरेआम गोली चलने से ग्रामीणों में अफरा-तफरी मच गयी।



वहीं इस घटना की जानकारी मिलते ही कोतवाली पुलिस तत्काल मौके पर पहुंच कर घायल को ईलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र ले आकर भर्ती कराया जहां हालत नाजुक होते देख चिकित्सकों ने जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया। इस घटना के पीछे कोतवाली पुलिस व ग्रामीण बीते पंचायत चुनाव की रंजीश मान रहे हैं। वहीं लाठी-डंडा के अलावा हमलावर पक्ष की ओर से हवाई फायरिंग किये जाने की बात पुलिस मानकर जांच में जुट गयी है।




मिली जानकारी के अनुसार महेशी गांव निवासी घटना में घायल राजकुमार सिंह ने ग्राम प्रधानी का पद सामान्य होने से अपनी पत्नी सुमन सिंह को चुनाव मैदान में उतारा था। वहीं विरोधी पक्ष के लोग भी चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे थे। हार-जीत को लेकर दोनों ओर से कसमकस चलने लगी। चुनाव प्रचार के दौरान ही कई बार दोनों पक्षों की ओर से आमने-सामने होते ही तनातनी हो गयी थी। लेकिन समय की नजाकत देखते हुए ग्रामीणों के समझाने पर मामला शांत होता गया। लेकिन खुनी संघर्ष का पृष्ठभूमि उसी समय से तैयार हो रही थी। जिसे ग्रामीण बखुबी समझ रहे थे। वहीं चुनाव का परिणाम राजकुमार सिंह के पक्ष में आया और उनकी पत्नी सुमन सिंह विरोधीयों को हराकर विजयी घोषित हुयीं। माहौल शांत होने के बजाय अन्दर ही अन्दर सुलगता रहा। जिसका परिणाम रविवार को खुनी संघर्ष बना।



इस घटना के बारे में नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान के परिजनों ने बताया कि बिजली का तार खिंचा जा रहा था। जिसमें कोई विवाद नहीं था। लेकिन बेवजह विरोधीयों द्वारा विवाद उत्पन्न किया गया। जब-तक लोग कुछ समझ पाते कि चुनाव में मात खाने की खुन्नश लिये विपक्षीयों ने अचानक हमला बोल दिया। जो देखते ही देखते पहले लाठी-डंडे का प्रयोग किया बाद में बंदुक से हवाई फायरिंग करने लगे। जिसके चलते पूरे गांव में भगदड़ मच गयी। ग्रामीण अपनी जान बचाने के लिए लोग इधर-उधर दुबकने लगे। आक्रोश व्यक्त करते हुए कहा कि नवनिर्वाचित ग्राम प्रधान के पति राजकुमार सिंह को जान से मारने की नियत से विपक्षियों द्वारा हमला किया गया था। लेकिन बुरी तरह से घायल होने पर उन्हें मरा समझ कर विपक्षी भाग निकले जिसके कारण अब तक वह जिवित चल रहे हैं।


इस घटना के बावत कोतवाली पुलिस ने भी हमलावर पक्ष द्वारा हवाई फायरिंग किये जाने की बात मान रही है। इस बावत कोतवाल एके सिंह ने बताया कि घायल के परिजनों की ओर से एक दर्जन लोगों के खिलाफ तहरीर दिया गया है। जिसपर सभी आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर लिया गया है। हवाई फायरिंग होने की मौके से सुराग मिले हैं। जिसपर जांच किया जा रहा है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it