Top
Begin typing your search...

कर्ज में डूबे शख्स ने सोशल मीडिया पर दिया ऑफर, '1 लाख में बिकाऊ है मेरी पत्नी'

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
कर्ज


इंदौर : मध्‍य प्रदेश में एक पति द्वारा अपनी पत्‍नी को सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक पर एक लाख रुपये में बेचने का ऑफर देने का अजीबोगरीब मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि यह शख्‍स कर्ज में डूबा हुआ है और इससे उबरने के लिए उसने यह करतूत की है।

मामला राज्‍य के खरगौन जिले का है। 30 साल के शख्‍स दिलीप माली ने फेसबुक पर कथित तौर पर अपना स्‍टेटस अपडेट किया जिसमें उसने लिखा कि वह 1 लाख रुपये में अपनी पत्‍नी को बेचने को तैयार है। इसके बाद महिला ने इस पोस्‍ट को लेकर अपने पति के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

ऐरोड्रोम पुलिस स्‍टेशन के एक अधिकारी ने बताया कि आरोपी पति के खिलाफ आईपीसी की धारा 509(वैसे शब्‍द, हावभाव या कार्य जिससे किसी महिला के सम्‍मान को चोट पहुंचती हो) के तहत मामला दर्ज कर लिया है। उन्‍होंने कहा कि उसकी तलाश की जा रही है।

अधिकारी ने बताया कि माली पर आरोप है कि उसने फेसबुक पर अपनी पत्‍नी के साथ दो साल की बेटी का फोटो अपलोड किया और अपना नंबर देते हुए लिखा कि जिन लोगों की इस खरीदारी में दिलचस्‍पी है, वे उससे संपर्क कर सकते हैं।

उसने यह पोस्‍ट हिंदी में लिखा। इसमें कहा गया, 'मैंने जिन लोगों के पैसे खाएं हैं, मैं उन्हें पैसे लौटाना चाहता हूं। इसलिए मैं अपनी वाइफ को एक लाख रुपये में बेच रहा हूं। अगर किसी को खरीदना है, तो वह मुझसे मेरे मोबाइल नंबर पर संपर्क करे।'

माली की पत्‍नी को इस शर्मनाक करतूत की जानकारी एक रिश्‍तेदार के जरिए रविवार को मिली। इसके बाद उसने पुलिस में मामला दर्ज करा दिया। महिला का आरोप है कि उसके पति ने उसे और उसके मायके वालों को बदनाम करने के लिए फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट डाली है।

महिला ने पुलिस को बताया कि खरगौन जिले के मूल निवासी माली से उसकी शादी करीब तीन साल पहले हुई थी। शादी के बाद कपल इंदौर आकर रहने लगा था। माली ने इस दौरान कुछ लोगों से कर्ज लिया था, लेकिन वह इसे चुका नहीं पा रहा था। कर्ज देने वाले आए दिन घर आकर अपना पैसा मांगते थे।

पत्‍नी के मुताबिक, कर्ज देने वालों के डर से माली इंदौर छोड़कर खरगौन जिले के अपने पैतृक गांव भाग गया था। इसके बाद महिला ने भी इंदौर स्थित किराए का मकान खाली कर दिया था और वह अपनी बेटी के साथ मायके में रहने लगी थी।
साभार : NBT
Special News Coverage
Next Story
Share it