Top
Begin typing your search...

MCD हड़ताल : आखिर झुके केजरीवाल, 31 जनवरी तक की सैलरी देगी दिल्ली सरकार

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
CM Kejriwal



नई दिल्ली : दिल्ली में 8 दिनों से जारी एमसीडी हड़ताल को लेकर सीएम केजरीवाल ने बंगलुरु में प्रेस कॉन्फ्रेंस की और बीजेपी पर जमकर हमला बोला। केजरीवाल ने कहा कि एमसीडी में बहुत बड़ा घोटाला हुआ है। करोड़ों इधर-उधर किए गए हैं। इसकी सीबीआई जांच हो। 'आप' दिल्ली को साफ करने कोशिश कर रही है, तो बीजेपी कूड़ा फैला रही है।

31 जनवरी तक की देंगें सैलरी :
केजरीवाल ने कहा, 31 जनवरी तक की सैलरी का इंतजाम हम कर रहे हैं। टोटल 690 करोड़ की जरूरत है, 31 जनवरी तक का हिसाब क्लियर करने के लिए एमसीडी के एक बिल का भुगतान कर रहे हैं। ''550 करोड़ का लोन एमसीडी को दे रहे हैं।''

केजरीवाल ने केंद्र सरकार पर दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगाने की साजिश रचने का आरोप भी मढ़ा। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में ऐसा माहौल तैयार किया जा रहा है कि, जिससे राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाए। अरुणाचल प्रदेश में यही किया गया।

जांच से भाग रही है MCD
केजरीवाल ने एमसीडी पर सत्तारूढ़ बीजेपी पर करप्शन को छिपाने का आरोप लगाया। केजरीवाल ने कहा कि हमने एमसीडी की चेकिंग के लिए डिविजनल कमिश्नर को भेजा, लेकिन अकाउंट दिखाने से इनकार कर दिया गया। इसका मतलब है कि बड़ा घोटाला हुआ है।

केजरीवाल ने आगे कहा, कि इस साल नॉर्थ डीएमसी को 893 करोड़ दिए गए हैं, जबकि पिछले तीन-चार सालों में साढ़े पांच सौ करोड़ ही मिलते थे। ईस्ट दिल्ली को इस साल 466 करोड़ रुपये दिए, जबकि पहले करीब 288 करोड़ मिलते थे। पिछले चार सालों के मुकाबले 100 करोड़ रुपये ज्यादा दिए हैं। केजरीवाल ने सवाल उठाया कि जब कम पैसे मिलने पर पिछले चार साल से सैलरी मिल रही थी, तो फिर अब क्यों नहीं दी जा रही है। सवाल यह है कि पैसा गया कहां। उन्होंने कहा कि बहुत बड़ा घोटाला हुआ है, इसकी सीबीआई जांच होनी चाहिए।
Special News Coverage
Next Story
Share it