Top
Home > Archived > केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला, नर्सरी ऐडमिशन में मैनेजमेंट कोटा खत्म

केजरीवाल सरकार का बड़ा फैसला, नर्सरी ऐडमिशन में मैनेजमेंट कोटा खत्म

 Special News Coverage |  6 Jan 2016 1:52 PM GMT

Kejriwal Govt


नई दिल्ली : दिल्ली की अरविन्द केजरीवाल सरकार की कैबिनेट ने आज अहम् फैसला लेते हुए दिल्ली के स्कूलों में मैनेजमेंट कोटा पूरी तरह से बंद करने का ऐलान कर दिया है। दिल्ली के सीएम अरविन्द केजरीवाल ने प्रेस कांफ्रेंस करके कहा कि मैनेजमेंट कोटा एक तरह का घपला है जिसके मुताबीक स्कूल अपनी मनमानी करते हैं। और आम व्यक्तियों के बच्चों को दाखिल नहीं मिल पाता था इसलिए मैनेजमेंट कोटा पूरी तरह से खत्म कर दिया गया है। केजरीवाल ने कहा कि अब स्कूलों में 75 प्रतिशत सीटें आम बच्चों के लिए और 25 प्रतिशत सीटें गरीब बच्चों के लिए होंगी।


स्कूलों ने अभी तक नहीं तय किए दाखिले के पैमाने
यही नहीं सीएम ने ये भी कहा कि दिसंबर में सभी स्कूलों को बताया गया था कि दाखिले के पैमाने वो खुद तय करें और वेबसाइट पे डालें किंतु कुछ स्कूलों ने ऐसे पैमाने लिखें है जैसे कि जिनके मां-बाप नॉन वेज खाते हैं, स्मोकिंग करते, शराब पीते उनको प्रवेश नहीं मिलेगा जो कि मनमाना और गलत हैं इसलिए सरकार ने ऐसे 62 प्रकार के पैमाने खत्म कर दिए हैं।

गलत होते हुए नहीं देख सकती सरकार

सरकार के अनुसार वो स्कूलों की स्वतंत्रता में दखल नहीं दे रही किंतु सरकार कुछ गलत होते हुए नहीं देख सकती इसलिये ये फैसले लिए गए हैं। आपको बता दें अभी दिल्ली के स्कूलों के पास खाली बची रह गई सीटों को मैनेजमेंट कोटा में बदलने का चलन है जिसमे बड़े पैमाने पर धांधली के आरोप लगते हैं। और क्योंकि तय नियम नहीं है इसलिये आरोप लगते हैं की स्कूल अपने हिसाब से बच्चे दाखिल करते हैं और अपने हिसाब सीटें खाली छोडक़र उसको मैनेजमेंट कोटा में दिखाकर उसके बदले बड़ी रकम में दाखिला देते हैं।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it