Top
Begin typing your search...

लालू ने खेला बड़ा राजनितिक दांव, मीसा और राबड़ी होंगी राज्यसभा सांसद

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
lalu-misa-bharti-nitish

पटनाः बिहार विधानसभा चुनाव में जबर्दस्‍त जीत और दोनों बेटों को मंत्री बनाने के बाद अब राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव अपनी पत्‍नी राबड़ी देवी और बेटी मीसा भारती को नई जिम्‍मेदारी देने जा रहे हैं। खास सियासी योजना के तहत राबड़ी देवी और मीसा भारती को राज्‍यसभा सांसद बनाने पर राजद में लगभग मुहर लग चुकी है। अगले साल राज्‍यसभा का चुनाव होना है और दोनों के नाम पर राजद नेताओं ने अपनी रजामंदी दे दी है।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया के मुताबिक, राजद सूत्रों ने बताया कि विधानसभा में पार्टी के 80 विधायक हैं। ऐसे में राबड़ी और मीसा ही राजद के राज्‍यसभा उम्‍मीदवार होंगे और उनकी जीत तय करने के लिए पार्टी को दो और वोट की जरूरत पड़ेगी, जो आसानी से हो जाएगा।


दरअसल, जुलाई 2016 जदयू के पांच राज्‍यसभा सांसदों की सीट खाली हो रही है। ऐसे में हालिया विधानसभा चुनाव के बाद राज्‍यसभा में बिहार के सांसदों की तस्‍वीर पूरी तरह बदल जाएगी।


राजद सूत्रों का कहना है, लालू हमेशा कहते रहे हैं कि वे राष्‍ट्रीय राजनीति में ध्‍यान देना चाहते हैं और नीतीश कुमार बिहार में फोकस करेंगे। राबड़ी और मीसा का राज्‍यसभा के लिए नामाकंन इस दिशा में पहला कदम होगा। इससे दिल्‍ली की राजनीति में भी लालू की दखल बढ़ जाएगी। राबड़ी देवी के सांसद बन जाने से उन्‍हें दिल्‍ली में बड़ा घर या बंगला मिलेगा, जिससे लालू की ठहरने की भी परेशानी कम हो जाएगी। अभी लालू को दिल्‍ली जाने पर राजद कार्यालय में ठहरना पड़ता है या फिर राजद सांसद प्रेमचंद गुप्‍ता के घर पर रुकना पड़ता है।


इसके अलावा, लालू के इस कदम से राजनीति में उनके परिवार का दबदबा और बढ़ जाएगा। मीसा भारती तेजतर्रार नेता मानी जाती हैं और राष्‍ट्रीय राजनीति के लिए राज्‍यसभा बिल्‍कुल उनके लिए मुफीद हैं। पहले से ही लालू के दोनों बेटे तेजप्रताप यादव और तेजस्‍वी यादव नीतीश सरकार में मंत्री हैं।
Special News Coverage
Next Story
Share it