Top
Begin typing your search...

हैवानियत : बरेली में 'निर्भया कांड' - दस साल की छात्रा की बलात्कार के बाद हत्या

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
Nirbhaya incident in bareilly



बरेली (देशदीपक गंगवार) : नवाबगंज में एक दस बर्ष की दलित छात्रा के साथ दरिंदो ने पहले तो बलात्कार किया। बाद में पहचाने जाने के डर से दरिंदो ने उसकी गला दबाकर नृशंस तरीके से हत्या कर दी। दरिंदो ने छात्रा के प्राईवेट पार्ट्स में लकड़ी ठूंस दी। छात्रा का शव गांव से पांच सौ मीटर की दूरी पर एक सरसों के खेत में नग अवस्था में पड़ा मिला। सूचना मिलने पर पुलिस के स्थानीय अधिकारी मौके पर पहुंच गए। नवाबगंज में छात्रा के साथ हुई दर्दनाक घटना ने लोगों को दहलाकर रख दिया है।

unnamed

नवाबगंज थाना क्षेत्र के आनन्दापुर लक्ष्मी नरायन गांव में महावट जाति के लोगो के कुछ परिवार रहते है। इन जाति के लोगों को मुख्य पेशा भीख मांगकर गुजर बसर करना है। यह लोग पशुओं को भी पालते हैं। शुक्रवार को इस गांव के हेमराज की पत्नी मोटी अपनी दस बर्ष की पुत्री आशा को लेकर पशुओ के लिए चारा लेने गई थी। मोटी गांव से कुछ दूर एक गन्ने के खेत से अगौला काट रही थी। इस बीच ईंधन के लिए गन्ने के खेत से मोटी और आशा ने पताई इकट्ठा कर ली। मोटी ने प्रातः 9 बजे के करीब पताई का गट्ठा आशा को लेकर गांव भेज दिया। आशा पताई गट्ठा डालने के बाद जब काफी देर तक जब दोबारा से खेत पर अपनी मां के पास नहीं पहुंची तो उसकी मां उससे देखने के लिए घर पहुंची मगर वह उसे घर पर नहीं मिली। जिसके बाद उसकी मां को कुछ चिंता हुई। जिसके बाद उसकी मां अपनी देवरानी धनदेई के साथ गांव और पड़ोस के गांव ईंधजागीर गांव में तलाश किया मगर आशा का कुछ पता नहीं चला।

सांय तीन बजे के करीब जब गांव के कुछ बच्चे खेतो में चारा काटने गए तो उन्हें गांव से पांच छः सौ मीटर दूर महेन्द्रपाल के सरसों के खेत में आशा का नंग अवस्था में शव पड़ा दिखा। इसकी जानकारी बच्चों ने आशा के परिजनों को दी। आशा के परिजन सूचना मिलते ही खेत की ओर दौड़ पड़े। शव के प्राईवेट पार्ट्स में लकड़ी ठुंसी हुई थी।

unnamed-1

मृतका के परिजानों का मानना है कि छात्रा के साथ दरिंदो ने पहले तो बलात्कार किया और पहचाने जाने के डर से उसकी हत्या कर दी। इसकी सूचना प्रधान पति संतोष कुमार ने पुलिस को दी गई। सूचना पर कोतबाल रामकरन सिंह सीओ नरेश कुमार पुलिस बल के साथ घटनाए स्थल पर पहुंचे और मौके पर जांच पड़ताल करने के बाद मृतक के परिजनो और गांव बालों से पूछताछ की।

unnamed-2

देर शाम को जब छात्रा के शव को नवाबगंज पुलिस अपने साथ ले आई उसके बाद फील्ड यूनिट की टीम भी नवाबगंज पुलिस चैकी पहुंची और शव की जांच की। मृतका गांव के ही सराकरी स्कूल में कक्षा 4 की छात्रा थी। पुलिस ने देर शाम शव को कब्जे में लेकर पंचनामा कराया। समाचार लिखे जाने तक घटना की तहरीर नहीं दी जा सकी थी।
Special News Coverage
Next Story
Share it