Home > Archived > जब तक बाबूलाल गौर का इस्तीफा नहीं AAP महिलाओं के हक़ की आवाज़ उठाती रहेगी – नेहा बग्गा

जब तक बाबूलाल गौर का इस्तीफा नहीं 'AAP' महिलाओं के हक़ की आवाज़ उठाती रहेगी – नेहा बग्गा

 Special News Coverage |  27 April 2016 2:31 PM GMT

[caption id="attachment_41803" align="alignnone" width="960"]मुख्यमंत्री के लिए भेजी चूड़ियाँ मुख्यमंत्री के लिए भेजी चूड़ियाँ [/caption]
भोपाल रफत जाफरी
आम आदमी पार्टी महिला इकाई ने आज प्रदेश के गृहमंत्री बाबूलाल गौर की गिरफ्तारी और तत्काल इस्तीफे की मांग को ले कर राज्य महिला आयोग में प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के नाम चूड़ियाँ भेट की। प्रदेश प्रवक्ता नेहा बग्गा ने कहा कि मध्यप्रदेश की शिवराज सरकार आम आदमी पार्टी के द्वारा उठाई जा रही हक़ की आवाज़ को दबाना चाहती है, महिला आयोग से मिलने पहुचने पर लगभग 200-250 का पुलिस बल आम आदमी की आवाज़ को दबाने के लिए भेजा गया था,पर इससे आम आदमी पार्टी डरने वाली नहीं है,साथ ही नेहा ने कहा की जिस प्रदेश का गृहमंत्री महिलाओं के साथ अभद्रता करता हो,उस प्रदेश की महिलाएं और बच्चियां कैसे सुरक्षित रह सकती है। बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि लम्बे समय से प्रदेश महिला उत्पीडन और महिला अत्याचार में नंबर 1 पर है, परंतु सरकार पूरी तरह इस मुद्दे पर विफल रही है। मुख्यमंत्री इस चरित्रहीन गृहमंत्री को बचा रहे है, इस घटना के बाद से प्रदेश की महिलाये घबराई हुई है और उन्हें अपनी सुरक्षा का डर सता रहा है।


आपको अमलुम हो कि 21 अप्रैल को भोपाल में एस.आर.9 रूट पर बस चलाने के उदघाटन के दौरान मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं वर्तमान गृहमंत्री बाबूलाल गौर ने एक महिला को गलत नीयत एवं तरीके से स्पर्श किया जो अश्लील, अनैतिक एवं आपराधिक कृत्य है और ऐसा कृत्य जब एक पूर्व मुख्यमंत्री एवं वर्तमान गृहमंत्री, जिस पर प्रदेश की सारी महिलाओं की सुरक्षा का जिम्मेदारी हो, के द्वारा किया जाता है तो यह बात मामले को और भी गंभीर एवं विचारणीय बना देती है। बाबूलाल गौर पर इस प्रकार का आरोप कोई नया नहीं है,इस तरह के कई आरोप गौर पर पहले भी लग चुके है।

मुख्यमंत्री की चुप्पी और इस गम्भीर मुद्दे पर अब तक कोई भी कार्यवाही न करना इस सरकार के चरित्र को दर्शाता है। आम आदमी पार्टी ने लगातार इस मामले में आवाज़ उठाई है। गृहमंत्री बाबूलाल गौर के घर का घेराव,अगले दिन पुरे प्रदेश में प्रदर्शन किया गय। इस मुद्दे को विदेश मंत्री सुश्री सुषमा स्वराज के सामने भी रखा गया। सोशल मीडिया पर भी आप ने गौर के इस्तीफे को ले कर आवाज़ उठाई। कल इस पर सिग्नेचर कैंपेन चलाया गया। अब भी अगर मुख्यमंत्री द्वारा बाबूलाल गौर का इस्तीफ़ा ले कर कार्यवाही नहीं की जाती तो आम आदमी पार्टी महिलाओं की सुरक्षा और सम्मान के लिए इस लड़ाई को प्रत्येक स्तर पर और तेज़ करेगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story
Share it
Top