Top
Begin typing your search...

पुलिस ने मस्जिद में घुसकर नमाजियों को पीटा, एक की मौत

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
voilence-BIRBHUMI
बीरभूमि
पश्चिम बंगाल के बीरभूम जिले के इलमबाजार इलाके में पुलिस और मुस्लिम समुदाय के लोगों के बीच हुए झगड़े में एक की मौत हो गई। इस घटना में तीन अन्य लोग गंभीर रूप से घायल भी हो गए। घटना सोमवार के अगले दिन की है।


क्या है मामला
जिले के भगबतीपुर के मुसलमानों ने पुलिस पर नमाज के दौरान मस्जिद में घुसने का आरोप लगाया। उनका कहना है कि जब नमाज पढ़ी जा रही थी तब पुलिस ने उनसे मारपीट की। हिंसा पैंगबर मुहम्मद को लेकर कथित आपत्तिजनक पोस्ट की वजह से हुई। इसके बाद थाने में तोड़फोड़ की गई। पुलिस पर आरोप है कि उसने मस्जिद को निशाना बनाया। मृतक की पहचान रेजुल इस्लाम के रूप में हुई है। एन-60 ब्‍लॉक करने के दौरान उसकी मौत हो गई। वहीं पोस्‍ट करने वाले व्‍यक्ति सुजान मुखर्जी को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस अधिकारी ने बताया, ‘सुजान की गिरफ्तारी के अगले दिन हिंसा हुई। थाने के बाहर भीड़ इकट्ठा हो गई।

एसपी मुकेश कुमार का कहना
भीड़ ने सुजान को उन्हें सौंपने की मांग की। भीड़ पर काबू पाने के लिए हमें आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े।’ एसपी मुकेश कुमार के अनुसार आरोपी सुजान थर्ड ईयर कंप्यूटर टेक्नोलॉजी का छात्र है। उसे कोर्ट ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया।


पंचायत समिति सदस्य अबुल कलाम ने थाने में तोड़फोड़ से इनकार किया। उन्होंने कहा कि बाहरी लोगों ने थाने पर हमला किया। यह चुनावों से पहले ध्रुवीकरण के चलते किया गया। इधर, भगबतीपुर के मुसलमानों ने पुलिस पर नमाज के दौरान मस्जिद में घुसने का आरोप लगाया। उनका कहना है कि जब नमाज पढ़ी जा रही थी तब पुलिस ने उनसे मारपीट की।

मदरसे के प्रधान अध्यापक मोनीरुल इस्लाम ने बताया कि जब नमाज चल रही थी तब पुलिस मस्जिद में घुसी। इस पवित्र जगह पर हिंसा नहीं की जा सकती लेकिन उनोहने नमाज पढ़ने वालों को घसीटा और पीटा। पुलिस ने इससे इनकार किया है। इसी बीच कुछ लोगों ने सुजान मुखर्जी के घर पर भी हमला बोल दिया। इन लोगों ने मकान को नुकसान पहुंचाया। पुलिस का दावा है कि अब स्थिति काबू में है।
Special News Coverage
Next Story
Share it