Top
Home > Archived > उर्स-ए-रजवी का आगाज आज, विदेशी मेहमानों का आना शुरू - सभी तैयारियां पूर्ण

उर्स-ए-रजवी का आगाज आज, विदेशी मेहमानों का आना शुरू - सभी तैयारियां पूर्ण

 Special News Coverage |  6 Dec 2015 11:13 AM GMT




बरेली (देशदीपक गंगवार) : परचम कुशाई की रस्म से रविवार को उर्स-ए-रजवी का आगाज होगा। परचम कुशाई का जुलूस सज्जादानशीन मौलाना अहसन मियां के नेतृत्व में चलेगा। प्रमुख मार्गो से होता हुआ जुलूस दरगाह पहुंचेगा, जहां दरगाह प्रमुख सुब्हानी मियां की अगुवाई में जुलूस को उर्स ग्राउंड के लिए रवाना किया जाएगा।

जायरीन के ठहरने, लंगर, पानी के अलावा स्टेज, पंडाल आदि की तैयारी पूरी हो चुकी है। आज फज्र नमाज के बाद कुरानख्वानी होगी। सुबह नौ बजे ठिरिया निजावत खां से अंजुमन एहसासुल मुस्लिेमीन नूरी कमेटी के नेतृत्व में और दोपहर दो बजे स्वाले नगर से चादरों का जुलूस दरगाह आला हजरत आएगा। परचम कुशाई का जुलूस आजम नगर के अल्लाह बख्श के निवास से शाम चार बजे चलेगा। जुलूस आजम नगर, कुमार टाकीज, इंदिरा मार्केट, बिहारीपुर ढाल के रास्ते दरगाह आला हजरत सलामी देकर वापस बिहारीपुर करोलान के रास्ते उर्स ग्राउंड पहुंचेगा। मुख्य गेट पर परचम कुशाई की रस्म अदा होगी। इसी के साथ तीन रोजा उर्स-ए-रजवी का आगाज हो जाएगा।




सूफिया रस्म से हुआ दरगाह का गुस्ल
दरगाह आला हजरत पर दरगाह प्रमुख मो. सुब्हान मियां की सरपरस्ती व सज्जादानशीन मौलाना अहसन मियां की मौजूदगी में सूफिया रस्म के साथ दरगाह का गुस्ल हुआ। मुफ्ती मो. सलीम नूरी ने बताया कि दरगाहे ख्वाजा गरीब नवाज के गद्दीनशीन सय्यद फरीद उल हसन चिश्ती और सय्यद आसिफ मियां के हाथों से गुस्ल की रस्म अदा हुई।

मरकज से जारी रहेगी आतंकवाद के लिखाफ मुहिम
दरगाह मंजरे इस्लाम के मुफ्ती सलीम नूरी ने बताया कि बरेली मरकज से आतंकवाद के खिलाफ मुहिम जारी रहेगी। मो. सुब्हानी मियां के निर्देश पर आतंकवाद के विरुद्ध मदरसा पाठय़क्रम को तैयार किया गया है।

इस्लामिक स्टडी सेंटर पर पेश होगा मुस्लिम एजेंडा
मथुरापुर स्थित इस्लामिक स्टडी सेंटर पर उर्स के तीन दिनी कार्यक्रम की तैयारी पूरी कर ली गई है। ऑल इंडिया जमात रजा-ए-मुस्तफा के प्रवक्ता मौलाना शहाबुद्दीन रजवी ने बताया कि जायरीन के लिए सारे इंतजाम किए गए हैं। छह दिसंबर को उर्स के आगाज के बाद मुस्लिम एजेंडा जारी किया जाएगा।

छह दिसंबर को अमन शांति का पैगाम
दरगाह आला हजरत स्थित अजहरी सभागार में जमात रजा-ए-मुस्तफा ने बैठक की। प्रवक्ता मौलाना शहाबुद्दीन रजवी और महासचिव हाजी नाजिम बेग ने कहा कि मौलाना असजद रजा खां ने छह दिसंबर को उर्स आला हजरत के मौके पर अमन शांति का पैगाम दिया है।

उर्स के लिए बनी कमेटी
दरगाह प्रमुख मो. सुब्हानी मियां-सरपरस्ती, सज्जादानशीन मौलाना अहसन मियां- सदारत, हसन रजा खां कादरी-इंतेजाम, सय्यद आसिफ मियां- उर्स प्रभारी, मुफ्ती मोहम्मद सलीम नूरी- उर्स निगरानी, स्टेज प्रभारी, हाजी मोहम्मद जावेद खान-उर्स उप प्रभारी

उर्स व्यवस्था के लिए सदस्य
18 उलेमा की इस्तकबालिया कमेटी, 10 लोग स्टेज व्यवस्था में लगे, 11 लोग मुशायरा इंतजाम देखेंगे, 4 लोग मीडिया सेल के लिए तैनात, 19 लोग रजा फोर्स के लगाए गए , 72 लोगों की व्यवस्था रिजर्व में रखी गई, 22 लोगों को दरगाह की व्यवस्था सौंपी गई, 20 लोग सलाहकार समिति में रखे गए, 2 लोगों की टीम लंगर व्यवस्था के लिए लगाई गयी हैं।





जायरीन के लिए लगाए ऑटो
ऑल इंडिया रजा एक्शन कमेटी के अध्यक्ष मौलाना अदनान मियां ने बताया कि जायरीन को रेलवे स्टेशन से उर्स स्थल तक पहुंचाने के लिए 50 से ज्यादा टेंपो लगाए गए हैं। टेंपो जंक्शन व सिटी स्टेशन से जायरीन को उर्स स्थल तक छोड़ेंगे।

स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Next Story

नवीनतम

Share it