Top
Begin typing your search...

डीजे बंद कराने पर चली गयी दो पुलिस कर्मियों की जान!

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
badaunfull

बदायूं :भाषा:

उत्तर प्रदेश में बदायूं जिले के बिलसी थाना क्षेत्र में तीन दिन पहले डीजे बन्द करवाने गये दो पुलिस कर्मियों पर हुए हमले घायल दूसरे सिपाही की भी आज सुबह मृत्यु हो गयी।
police
अपर पुलिस अधीक्षक मुन्नालाल ने बताया कि हमले में घायल दूसरे सिपाही भीमसेन सिंह ने बरेली के अस्पताल में आज सुबह उपचार के दौरान दम तोड दिया।

गौरतलब है कि घदौली गांव में जगतपाल नाम के एक व्यक्ति के घर बहुत तेज आवाज में डीजे बजाये जाने की शिकायत आने पर रिसौली चौकी पर तैनात सिपाही मुहम्मद फहीम और भामसेन वहां उसे बंद कराने पहुंचे थे।

police 1

उन्होंने बताया कि सिपाहियों के घटनास्थल पहुंचने पर जगतपाल और उनके परिजनों ने फावडे, कुल्हाडी और लाठियों से उन पर हमला कर दिया जिसमें दोनों पुलिस कर्मी गंभीर रूप से घायल हो गये थे। फहीम की दूसरे दिन मौत हो गयी थी जबकि दूसरे सिपाही ने आज दम तोड़ दिया।


क्या था मामला
दिनांक 17.02.2016 को 7:30 बजे शाम थाना बिल्सी के 02 सिपाहियों को किसी व्यक्ति ने फोन करके बताया कि हमारे गांव में एक परिवार में बहुत तेज आवाज में DJ बज रहा है। कल हाई स्कूल का पेपर होने के कारण पढ़ाई में बाधा उत्पन्न हो रही है। उस समय दोनों सिपाही उस गांव से लगभग 1 किलोमीटर की दूरी पर डयूटी दे रहे थे। दोनों सिपाही उस गांव में पहुंचे। डीजे को बंद करने के लिए कहा तो उसी समय पूरे परिवार ने मिलकर सिपाहियों से पहले अभद्रता की, सिपाहियों ने उस परिवार को काफी समझाने की कोशिश की परंतु सारी कोशिश बेकार गई और परिवार के सभी सदस्यों ने मिलकर दोनों सिपाहियों पर चाकू एवं फावड़ा से वार किया।

जिसमें से एक सिपाही फहीम की मृत्यु हो गई और दूसरा बहुत गंभीर अवस्था में जनपद बरेली के अस्पताल में भर्ती है। तो ऐसी राइफल से क्या फायदा जिससे कि हम अपनी सुरक्षा तक ना कर सके। दोनों सिपाहियों के मन में एक बार राइफल चलाने का विचार जरुर आया होगा पर चलाने के बाद होने वाली कार्यवाही को सोच कर हाथ बंध गए होंगे और जो हुआ वो आपके सामने है।
Special News Coverage
Next Story
Share it