Home > Archived > 2017 में यूपी में बीजेपी की सरकार बनेगी - अमित शाह

2017 में यूपी में बीजेपी की सरकार बनेगी - अमित शाह

 Special News Coverage |  25 Feb 2016 12:58 PM GMT

amit shah

लखनऊ
भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने सपा और बसपा की जातिवादी राजनीति से कार्यकर्ताओं को सावधान करते हुए साफ शब्दों में कहा कि 2017 के विधानसभा चुनावों में यूपी की जनता भाजपा को मौका देने की राह देख रही है। भाजपा जन आकांक्षाओं को पूरा करने में समर्थ है। 2017 चुनावों में भाजपा के समक्ष कोई चुनौती नहीं।


अमित शाह भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश कार्यालय के पुर्ननिर्मित भवन के उद्घाटन समारोह में बोल रहे थे। भाजपा के कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में उन्होंने सपा और बसपा पर जातिवादी राजनीति करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि यूपी में दोनों दल एक दशक से सत्ता में काबिज रहे है, इसके बाद भी यूपी का विकास ठहर गया है। चुनावों के दृष्टिकोण से यूपी को बेहद संवेदनशील बताते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि कार्यकर्ता सपा-बसपा के आने-जाने के बहकावें में न फंसे। प्रदेश के विकास के लिए भाजपा की सरकार बनाने के लिए तन-मन से जुट जायें। शाह ने कहा कि प्रदेश में भाजपा की सरकार 2017 में आयेगी और कभी नहीं जायेगी।


12736194_671643079604895_239186435_n
शाह ने केन्द्र सरकार की नरेन्द्र मोदी सरकार के कार्यो से अवगत कराते हुए कहा कि यूपी को आज जो बिजली मिल रही है उसका पूरा श्रेय केन्द्र की भाजपा सरकार को है। उन्होंने कहा कि राजग सरकार 24 घंटे बिजली देने के लिए प्रतिबद्ध है। अमृत योजना के तहत नये ग्रिडों पर भरपूर बिजली कम दामों में राज्यों को दी जा रही है।

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि यूपी के चुनाव में अभी भले ही पूरा साल बाकी हो लेकिन चुनावी शुरूर बढ़ गया है। कभी यूपी देश के अग्रणी राज्यों में गिना जाता था लेकिन सपा-बसपा और कांग्रेस ने इस राज्य में पिछड़ापन पैदा कर दिया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने जिस तरह 2014 के आम चुनावों में भाजपा को 73 सीटें दी थी, उसी तरह 2017 के विधानसभा चुनावों प्रदेश की जनता भाजपा को सर्वाधिक सीटे देकर सरकार बनवाने जा रही है। उन्होंने कहा कि सत्ता में आते ही यूपी का विकास उसी तरह होने लगेगा जैसे भाजपा शासित दूसरे राज्य विकास की दौड़ में सबसे आगे निकल रहे है।
भाजपा अध्यक्ष ने जेएनयू में देशद्रोह की घटना पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को जमकर लताड़ लगायी।


उन्होंने राहुल गांधी से पूछा कि क्या वे जेएनयू में लगे देशद्रोह वाले नारों से सहमत है ? अगर राहुल गांधी मानते है कि छात्रों द्वारा अफजल का समर्थन करना सही है तो वे खुद उन नारों को दोहरायें। शाह ने मीडिया से संबोधित होकर कहा कि वे बार-बार राहुल गांधी से पूछें कि वे जेएनयू मामले को क्या मानते है ? उन्होंने कहा कि राहुल पार्टी का विरोध करें। हमारी विचारधारा का विरोध करें लेकिन देशद्रोहियों का इस तरह समर्थन करना वे अभिव्यक्ति की आजादी मानते है तो यह आजादी उन्हें मुबारक हो।

अमित शाह ने कहा कि भाजपा ने हर जिले में अपने कार्यालय को बनाने का काम हाथ में लिया है। सभी कार्यालय हाईटेक बन रहे है। समय की यह जरूरत है और इससे नई ऊर्जा प्राप्त होती है। हमारे कार्यकर्ता आज इस प्रदेश कार्यालय को देखकर प्रशन्नता से परिपूर्ण है। इससे चुनाव में हम और बेहतर प्रदर्शन करेंगे। उसके पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष का स्वागत करते हुए भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा लक्ष्मीकांत बाजपेयी ने कहा कि यूपी भाजपा आपके करिश्माई नेतृत्व मंे 2017 विधानसभा जीत के मिशन को पूरा करेगी।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
Share it
Top