Top
Home > Archived > ‘‘गाँव-गाँव अखिलेश’’ अभियान का संदेश पहुंचा चार लाख लोंगों तक

‘‘गाँव-गाँव अखिलेश’’ अभियान का संदेश पहुंचा चार लाख लोंगों तक

 Special News Coverage |  13 March 2016 11:36 AM GMT

gaon-gaon-akhilesh
लखनऊ

समाजवादी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता राजेन्द्र चौधरी ने कहा है कि समाजवादी सरकार की उपलब्धियों को गाँव-गाँव जन-जन तक पहुँचाने के लिए गत दिसम्बर 2015 से प्रारम्भ ‘‘गाँव-गाँव अखिलेश’’ अभियान का संदेश अब तक 403970 निवासियों तक पहुँच चुका है। पाँच जनपदों में एलईडी युक्त वैन में लगे वीडियो से सरकारी योजनाओं की जानकारी होती है और अभियान में साथ चल रहे वालंटियर्स ग्रामीणों से संवाद करते हैं।



‘‘गाँव-गाँव अखिलेश’’ यात्रा समाजवादी जनसंवाद अभियान के अन्तर्गत अब तक आगरा के 226 गाँवो में 91756 लोगो तक, फैजाबाद के 201 गाँवो के 81606 लोगों और गोरखपुर के 226 गाँवों में 91756 लोगों तक पहुँच चुकी है। हमीरपुर के 172 गाँवो के 69832 लोगो और जालौन के 170 गाँव के 69020 लोगो तक भी संपर्क हो चुका है और यहाँ के ग्रामीणों के सुझाव मुख्यमंत्री तक पहुँचाए गए है।




समाजवादी जनसंवाद के इस अभिनव प्रयोग का लक्ष्य ग्रामीणों तक सरकार की जनहितकारी योजनाओं को पहुँचाना है और्र जिन्हें इसकी जानकारी नही है वालंटियर्स उन्हें जानकारी देते हैं। ग्रामीणांे के बीच सरकार की प्रचार सामग्र्री भी वितरित की जाती है। इसके अलावा ग्रामीणों से उनके सुझाव भी लिए जाते हैं।


‘‘गाँव-गाँव अखिलेश’’ यात्रा वस्तुतः समाजवादी सरकार को गाँव-गाँव ले जाने कीे योजना का ही अंग है। मुख्यमंत्री मानते है कि गाँव और किसान की खुशहाली से ही देश-प्रदेश की खुशहाली संभव है। उन्होने इसीलिए वर्ष 2016-17 को ‘‘किसान और नौजवान वर्ष’‘ घोषित किया है और गाँवो के लिए 80 प्रतिशत बजट राशि की व्यवस्था की है। उन्होने गाँवो और किसानों के लिए अनेक नई योजनांए भी प्रारम्भ की है।


उत्तर प्रदेश में समाजवादी सरकार के चार साल पूरे हो रहे हैं। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की कोशिश रही है कि समाज का हर वर्ग योजनाओं से लाभान्वित हो। प्रदेश में शांति व्यवस्था तथा सामाजिक सद्भाव बनाए रखने में उन्हें सफलता मिली है और सांप्रदायिक ताकतों को निराशा हाथ लगी है। जनता के बीच अखिलेश यादव की छवि एक बेदाग और ईमानदार मुख्यमंत्री की है। समाजवादी जनसंवाद अभियान की प्रगति से अखिलेश यादव के प्रति जनता का अटूट भरोसा जाहिर होता है।

Tags:    
स्पेशल कवरेज न्यूज़ से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें न्यूज़ ऐप और फेसबुक पर ज्वॉइन करें, ट्विटर, Telegram पर फॉलो करे...
Next Story
Share it