Top
Begin typing your search...

36 साल के दलित विधायक ने की पुजारी की 19 साल की बेटी से शादी, बढ़ा विवाद

पुजारी ने सत्तारूढ़ पार्टी के विधायक पर उनकी बेटी को बहला-फुसला कर शादी करने का आरोप लगाया.?

36 साल के दलित विधायक ने की पुजारी की 19 साल की बेटी से शादी, बढ़ा विवाद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

तमिलनाडु में एक 36 साल के दलित विधायक के 19 साल की छात्रा से शादी करने के बाद विवाद खड़ा हो गया है. लड़की एक मंदिर के पुजारी की बेटी है, पुजारी ने सत्तारूढ़ पार्टी के विधायक पर उनकी बेटी को बहला-फुसला कर शादी करने का आरोप लगाया. लड़की के पिता का कहना है कि अगर इस मामले में अधिकारियों ने हस्तक्षेप नहीं किया होता, तो वह आत्महत्या कर लेते. उन्होंने कहा कि पुलिस ने उन्हें आत्महत्या करने से रोक लिया, और उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया.

लड़की के पिता स्वामीनाथन का कहना है कि वह विधायक की जाति की वजह से शादी का विरोध नहीं कर रहे हैं, बल्कि दोनों की उम्र के बीच अंतर की वजह से वह शादी के खिलाफ हैं. उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें लग रहा है कि जैसे उनकी बेटी ने उनके साथ विश्वासघात किया है, वह धमकी जैसा महसूस कर रहे हैं.

विधायक ने वीडियो जारी कर दी शादी पर सफाई

कल्लाकुरिची विधानसभा क्षेत्र से विधायक श्नी प्रभु ने शादी के बाद अपनी पत्नी के साथ एक वीडियो जारी कर साफ किया कि दोनों पिछले चार महीनों से एक दूसरे के प्यार में थे. विधायक ने यह भी बताया कि उनके परिवार ने लड़की के घरवालों से दोनों की शादी के लिए बातचीत की थी, लेकिन उन्होंने दोनों के रिश्ते को स्वीकार करने से मना कर दिया.

विधायक श्री प्रभु ने सोमवार को अपने घर पर परिवार की मौजूदगी में पुजारी की बेटी से शादी कर ली, जिसमें उनके माता-पिता समेत दूसरे सदस्य शामिल हुए, इसके साथ ही विधायक ने मीडिया से बातचीत में ससुराल वालों के साथ जल्द ही रिश्ते ठीक होने की भी उम्मीद जताई.

विधायक श्री प्रभु ने कहा कि जब वह 30 साल के थे, तब राजनीति में बिजी थे, जब उनके परिवार ने उनकी शादी करानी चाही , उस समय पूर्व सीएम जयललिता का निधन हो, जिसकी वजह से वह टूट गए और उन्होंने शादी नहीं की, लेकिन लॉकडाउन के दौरान पुजारी की बेटी से उनकी नजदीकियां बढ़ने लगीं और दोनों एक दूसरे के प्यार में पड़ गए.

दलित विधायक ने पत्नी के अपहरण के दावे को किया खारिज

विधायक ने कहा कि वह अपनी पत्नी के पिता को कई सालों से जानते हैं, उनके बीच बहुत अच्छे रिश्ते हैं. लड़की के पिता ने उन्हें अपने हाथों से खाना भी खिलाया है और उनकी सफलता के लिए प्रार्थना भी की है. उन्हें लगता है कि कुछ राजनीतिक ताकतों ने उनके खिलाफ पुजारी जी के मन में जहर घोल दिया है.

विधायक से राजनीतिक जीवन में इंटरकास्ट मैरिज को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि राजनीति सार्वजनिक जीवन है और शादी उनका निजी जीवन है, दोनों अलग-अलग हैं. हालांकि लड़की के पिता ने दावा किया कि उन की बेटी शादी से पहले लापता हो गई थी, उसका अपहरण किया गया था, लेकिन अपने वीडियो में विधायक श्री प्रभु ने लड़की के अपहरण के दावे से इनकार कर दिया.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it