Top
Begin typing your search...

इस पॉपुलर App में आया वायरस, 1 करोड़ से ज्यादा यूजर प्रभावित, तुरंत कर दें डिलीट

अगर आपके फोन में भी ये ऐप है तो इसे तुरंत डिलीट कर दें

इस पॉपुलर App में आया वायरस, 1 करोड़ से ज्यादा यूजर प्रभावित, तुरंत कर दें डिलीट
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कभी-कभी किसी ऐप के अपडेशन में ऐसा फीचर आ जाता है जिससे यूजर प्रभावित हो जाते हैं. ऐसा ही Barcode Scanner ऐप वायरस की चपेट में आ गया है। Malwarebytes ने यह जानकारी दी है। वायरस से यूजर्स को इन्फेक्ट करने के बाद बारकोड स्कैनर को गूगल प्ले स्टोर से हटा दिया गया है। ऐप में वायरस होने की शिकायत मिलने के बाद गूगल ने फटाफट इस ऐप को प्ले स्टोर से हटा दिया है। ऐप को प्ले स्टोर से 1 करोड़ से ज्यादा बार डाउनलोड किया जा चुका था।

Malewarebytes की रिपोर्ट के मुताबिक, 'दिसंबर के आखिर में अपने हमारे फोरम यूजर्स से एक डिस्ट्रेस कॉल मिलनी शुरू हुई। इन यूजर्स को विज्ञापन दिख रहे थे जो उनके डिफॉल्ट ब्राउजर के जरिए ओपन हो रहे थे। खास बात है कि इनमें से किसी ने भी हाल ही में कोई ऐप इंस्टॉल नहीं किए थे और जो ऐप इंस्टॉल हुए थे उन्हे गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया गया था। इसके बाद एक Anon00 यूजरनेम वाले एक यूजर ने पाया कि ये विज्ञापन लंबे समय से इंस्टॉल Barcode Scanner ऐप से आ रहे हैं। इस ऐप को गूगल प्ले पर 1 करोड़ से भी ज्यादाबार डाउनलोड किया जा चुका है। हमने जल्द ही वायरस को डिटेक्ट किया और फिर गूगल ने भी इसे प्ले स्टोर से हटा दिया।'

रिपोर्ट में बताया गया कि यूजर्स के मोबाइल में यह ऐप लंबे समय से इंस्टॉल था। हालांकि, दिसंबर में आए एक अपडेट के बाद Barcode Scanner एक मैलिशिस ऐप में बदल गया। खबरों के मुताबिक, यह अपडेट 4 दिसंबर, 2020 को रोल आउट हुआ था। यह भी पता चला है कि इस ऐप अपडेट में एक Android/Trojan.HiddenAds.AdQR कोड था जिससे यूजर्स अपने स्मार्टफोन के डिफॉल्ट ब्राउजर पर थर्ड-पार्ट एड साइट पर रीडायरेक्ट हो रहे थे।

हमारी सलाह है कि अगर आपके स्मार्टफोन में भी बारकोड स्कैनर ऐप इंस्टॉल है तो इसे तुरंत डिलीट कर दें।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it